ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRपांच वीडियो बना केजरीवाल का मजाक उड़ाया, AAP ने चुनाव आयोग से की शिकायत

पांच वीडियो बना केजरीवाल का मजाक उड़ाया, AAP ने चुनाव आयोग से की शिकायत

आम आदमी पार्टी के सांसद राघव चड्ढा के नेतृत्व में पार्टी नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से दिल्ली बीजेपी की शिकायत की है। इस शिकायत में अलग-अलग 5 वीडियो का जिक्र किया गया है।

पांच वीडियो बना केजरीवाल का मजाक उड़ाया, AAP ने चुनाव आयोग से की शिकायत
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 20 Nov 2023 04:43 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भारतीय जनता पार्टी द्वारा सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने के खिलाफ आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग से शिकायत की है। AAP नेता राघव चड्ढा के नेतृत्व में पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात की है। आप सांसद राघव चड्ढा ने कहा, 'बीजेपी फालतू की सामग्रियों को सोशल मीडिया पर पोस्ट कर हमारे पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल की छवि को खराब करने की कोशिश कर रही है। वो लोग चरित्र हनन करना चाहते हैं। हमने चुनाव आयोग से अपील की है कि वो बीजेपी के खिलाफ ऐक्शन लें। राजनीति में भी कुछ मर्यादा होनी चाहिए। मेरा बीजेपी से आग्रह है कि लोगों का चरित्र हनन रोकना चाहिए। अगर आप केजरीवाल से लड़ना चाहते हैं तो चुनावी मैदान में लड़ें। हमने कानून की धाराओं के साथ आयोग को बताया है कि कौन-कौन सी धाराओं का उल्लंघन बीजेपी के द्वारा सोशल मीडिया पर किया गया है। हमें निश्चिंत हैं कि चुनाव आयोग ऐक्शन लेगा।'

चुनाव आय़ोग से हुई मुलाकात पर आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढा ने कहा, 'हमें चुनाव आयोग पर पूरा विश्वास है। चुनाव आयोग हमारी शिकायत पर संज्ञान लेगा और फिर जांच भी करवाएगा। यह लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम का उल्लंघन है। इसके अलावा आईटी ऐक्ट पर भी उल्लंघन है। आम आदमी पार्टी ने बीजेपी के खिलाफ जांच की मांग की है। आम आदमी पार्टी ने नवंबर महीने में दिल्ली बीजेपी के आधिकारिक सोशल मीडिया 5 वीडियो के जरिए अरविंद केजरीवाल का मजाक बनाया था। आप ने आरोप लगाया है कि लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम का उल्लंघन किया है।

कांग्रेस ने भी चुनाव आयोग को बीजेपी के सोशल मीडिया अकाउंट की सीडी सबूत के तौर पर सौंपी है। चुनाव आयोग ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को देखते हुए 7 नवंबर से लेकर 30 नवंबर तक एग्जिट पोल के नतीजों को जारी करने पर पाबंदी लगा दी है। यह प्रतिबंधन 7 नवंबर की सुबह 7 बजे से 30 नवंबर की रात साढ़े छह बजे तक जारी रहेगा। सभी पांच राज्यों में मतों की गिनती 3 दिसंबर को होगी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें