ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRकार से उतरे चार लोग, बस ड्राइवर को जान से मार कर चलते बने; गुरुग्राम में रोड रेज का खूनी अंजाम

कार से उतरे चार लोग, बस ड्राइवर को जान से मार कर चलते बने; गुरुग्राम में रोड रेज का खूनी अंजाम

गुरुग्राम में कार से उतरे चार लोगों ने एक बस ड्राइवर को पीट-पीटकर मार डाला और कार में सवार होकर चलते बने। बस ड्राइवर का कसूर इतना था कि गुरुग्राम में सोहना रोड पर उसकी बस एक कार से टकरा गई थी।

कार से उतरे चार लोग, बस ड्राइवर को जान से मार कर चलते बने; गुरुग्राम में रोड रेज का खूनी अंजाम
Subodh Mishraपीटीआई,गुरुग्रामMon, 17 Jun 2024 09:07 PM
ऐप पर पढ़ें

गुरुग्राम में कार से उतरे चार लोगों ने एक बस ड्राइवर को पीट-पीटकर मार डाला और कार में सवार होकर चलते बने। इस दौरान वहां खड़े लोग करीब 10 मिनट तक बस ड्राइवर के पीटने का तमाशा देखते रहे, लेकिन मदद के लिए उनके कदम नहीं बढ़े। बस ड्राइवर का कसूर इतना था कि सोहना रोड पर राजीव चौक के पास उसकी बस कार से टकरा गई थी।

सदर थाने की पुलिस ने सोमवार को कहा कि एक सड़क घटना में एक मिनीबस के 37 वर्षीय ड्राइवर को चार लोगों ने कथित तौर पर पीट-पीटकर मार डाला, क्योंकि बस उनकी कार से टकरा गई थी। उन्होंने बताया कि यह घटना रविवार शाम सोहना रोड पर हुई। पुलिस ने बताया कि कार से उतरे चार लोगों ने ड्राइवर के साथ बुरी तरह मारपीट की और मौके से भागने में सफल रहे। मृतक के भाई की शिकायत पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ सदर थाने में हत्या का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस उनकी तलाश में जुट गई है। बस ड्राइवर की पहचान दिल्ली के मंगोलपुरी निवासी दीनदयाल उर्फ दीनू के रूप में हुई है। 

पुलिस के मुताबिक हादसा शाम करीब 6 बजे हुआ जब दीनदयाल मिनीबस लेकर राजीव चौक की ओर जा रहे थे। इसी दौरान उनकी बस एक कार से टकरा गई। चार लोग तुरंत कार से बाहर आए और मिनीबस को रोककर चालक को बाहर निकाला और पीटने लगे। करीब 10 मिनट तक वे लोग ड्राइवर को पीटते रहे। इस दौरान भीड़ जमा हो गई और खड़े होकर देखते रहे। इस बीच पुलिस को आता देख चारो कार में बैठकर भाग गए।

पुलिस ने बताया कि बस ड्राइवर को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के भाई मुकेश की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार, मिनी बस के मालिक ने देर शाम उसकी मां को सूचना दी कि दीनदयाल ने बस से एक कार को टक्कर मार दी है। कुछ समय बाद, उसकी मां ने उसके भाई के मोबाइल  पर फोन किया। कॉल एक पुलिसकर्मी ने रिसीव किया। पुलिसकर्मी ने बताया कि दीनदयाल को कुछ लोगों ने पीटा था। अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

दीनदयाल के भाई ने आरोप लगाया है कि अज्ञात लोगों ने उसके भाई की हत्या कर दी। मृतक के भाई की शिकायत पर सदर थाने में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धारा 302 (हत्या), 34 (सामान्य इरादा) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। सदर थाने के प्रभारी निरीक्षक अर्जुन देव ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिवार को सौंप दिया गया है। आरोपियों को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है।