DA Image
13 जनवरी, 2021|9:58|IST

अगली स्टोरी

नोएडा में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए, रिक्टर स्केल पर 2.9 मापी गई तीव्रता

दिल्ली से सटे नोएडा और गाजियाबाद में बुधवार शाम को भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। रिक्टर पैमाने में इसकी तीव्रता 2.9 मापी गई है। हालांकि, भूकंप की तीव्रता कम होने के चलते कम ही लोगों को इसका पता चला। राष्ट्रीय भूकंप केन्द्र के मुताबिक शाम को सात बजकर नौ मिनट पर ये झटके आए। रिएक्टर पैमाने पर इनकी तीव्रता 2.9 रही जबकि भूकंप का केन्द्र गाजियाबाद में जमीन के पांच किलोमीटर नीचे मौजूद था। 

नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने बताया कि भूकंप के झटके स्थानीय समयानुसार 7:03 बजे महसूस किए गए। भूकंप का केंद्र उत्तर और उत्तर-पूर्व में 37 किमी की दूरी पर था। 

इससे पहले पिछले महीने 25 दिसंबर को भूकंप के झटके से एक बार फिर दिल्ली की धरती हिली थी। रिक्टर पैमाने पर उस भूकंप की तीव्रता 2.3 रही। दिल्ली के नांगलोई में .यह भूकंप सुबह 5 बजकर 2 मिनट पर आया। 

पिछले आठ दिनों में ऐसा दूसरी बार हुआ था। उससे पहले 18 दिसंबर को राजधानी में भूकंप के झटके महसूस हुए थे। तब भूकंप का केन्द्र राजस्थान के अलवर में था। 

रात 23 बजकर 46 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। इसका केन्द्र राजस्थान के अलवर में रहा। रिएक्टर पैमाने  पर इसकी तीव्रता 4.2 मापी गई। जबकि, भूकंप का केन्द्र जमीन के लगभग पांच किलोमीटर नीचे मौजूद रहा। ये भूकंप के झटके इतनी तीव्रता के थे कि इनके झटके दिल्ली-एनसीआर में महसूस किए गए। दिल्ली के कई हिस्सों में लोग अपने घरों से बाहर निकल आए और बाद में भी घर के अंदर जाने से डरते रहे।

भूकंप आए तो क्या करें

भूकंप के दौरान मकान, दफ्तर या किसी भी इमारत में अगर आप मौजूद हैं तो वहां से बाहर निकलकर खुले में आ जाएं। इसके बाद खुले मैदान की ओर भागें। भूकंप के दौरान खुले मैदान से ज्यादा सुरक्षित जगह कोई नहीं होती। भूकंप आने की स्थिति में किसी बिल्डिंग के आसपास न खड़े हों। अगर आप ऐसी बिल्डिंग में हैं, जहां लिफ्ट हो तो लिफ्ट का इस्तेमाल बिल्कुल न करें। ऐसी स्थिति में सीढ़ियों का इस्तेमाल करना ही उचित होता है।

भूकंप के दौरान घर के दरवाजे और खिड़की को खुला रखें। इसके अलावा घर की सभी बिजली स्विच को ऑफ कर दें। अगर बिल्डिंग बहुत ऊंची हो और तुरंत उतर पाना मुमकिन न हो तो बिल्डिंग में मौजूद किसी मेज, ऊंची चौकी या बेड के नीचे छिप जाएं। भूकंप के दौरान लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वो पैनिक न करें और किसी भी तरह की अफवाह न फैलाएं, ऐसे में स्थिति और बुरी हो सकती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mild earthquake tremors felt in Noida