ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRरोना बंद कीजिए, टैंकर माफिया को मिल रहा पानी तो सरकार को क्यों नहीं; आतिशी पर खूब बरसे मनोज तिवारी

रोना बंद कीजिए, टैंकर माफिया को मिल रहा पानी तो सरकार को क्यों नहीं; आतिशी पर खूब बरसे मनोज तिवारी

दिल्ली में पानी की किल्लत को लेकर सियासी बयानबाजी जारी है। अब आतिशी पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने हमला बोला है। उन्होंने पूछा है कि अगर टैंकर माफिया को पानी मिल रहा है तो सरकार को क्यों नहीं।

रोना बंद कीजिए, टैंकर माफिया को मिल रहा पानी तो सरकार को क्यों नहीं; आतिशी पर खूब बरसे मनोज तिवारी
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 13 Jun 2024 10:41 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में पानी की किल्लत ने लोगो का जीवन बेहाल कर रखा है। आप रोज हरियाणा सरकार पर इसका ठीकरा फोड़ रही है। वहीं सुप्रीम कोर्ट पर भी पानी के संकट पर सख्त है। प्यास पर सियासत के बीच उत्तर पूर्वी दिल्ली से दोबारा चुने गए सांसद मनोज तिवारी ने पानी को लेकर दूसरे राज्यों को दोषी ठहराने के लिए दिल्ली की मंत्री आतिशी की आलोचना की। तिवारी ने आप मंत्री से सवाल किया कि अगर टैंकर माफिया को पानी मिल रहा है तो सरकार को क्यों नहीं?

रोनी नहीं रो सकतीं

समाचार एजेंसी एएनआई से बीजेपी सांसद ने कहा, 'आतिशी के पास जल विभाग है, वह रोना नहीं रो सकती कि दिल्ली में पानी नहीं है क्योंकि टैंकर माफिया दिल्ली से पानी निकालकर लोगों को दे रहे हैं, वे हरियाणा से पानी लेकर टैंकर नहीं भर रहे हैं।' उन्होंने सवाल किया कि अगर टैंकर वेंडर्स पानी दे सकते हैं तो सरकार पानी उपलब्ध कराने में असमर्थ क्यों है। तिवारी ने राजधानी में जलापूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सरकार द्वारा जिम्मेदारी लेने पर जोर डाला और पाइपलाइन में लीकेज और गटर के पानी में साफ पानी के मिलने को इस संकट का कारण बताया।

तुरंत समाधान होना चाहिए

तिवारी ने कहा, 'उपराज्यपाल और सुप्रीम कोर्ट सरकार से लोगों को पानी उपलब्ध कराने का आग्रह कर रहे हैं। जब हम बुनियादी सुविधाओं की जरूरतों पर प्रकाश डालते हैं तो इसे अपमान के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए।' उन्होंने दिल्ली के नागरिकों को पानी उपलब्ध कराने के अपने कर्तव्य की कथित रूप से उपेक्षा करने के लिए आप सरकार की आलोचना की, और पानी की कमी के मुद्दे को तुरंत हल करने पर जोर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने भी इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए दिल्ली सरकार से राजधानी में टैंकर माफियाओं की मौजूदगी और पानी की बर्बादी के बारे में सवाल पूछे। 

आतिशी की आलोचना की

सुप्रीम कोर्ट ने मामले में हस्तक्षेप करते हुए दिल्ली सरकार से पानी की बर्बादी और टैंकर माफियाओं की मौजूदगी को लेकर सवाल किया। अदालत ने सरकार को निर्देश दिया कि वह पानी की बर्बादी को रोकने और गर्मियों के दौरान पानी की कमी की समस्या से निपटने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में बताए। तिवारी ने दिल्ली सरकार से राजधानी के निवासियों को पानी के कुशल वितरण को प्राथमिकता देने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने जल विभाग की जिम्मेदारी होने के बावजूद पानी की कमी को ठीक ढंग से हल निकालने में कथित रूप से विफल रहने पर आतिशी की आलोचना की।

Advertisement