ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRमनीष सिसोदिया के घर क्यों पड़ा CBI का छापा, क्या हैं आरोप; LG ने की थी सिफारिश

मनीष सिसोदिया के घर क्यों पड़ा CBI का छापा, क्या हैं आरोप; LG ने की थी सिफारिश

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ठिकानों पर सीबीआई की टीम एकसाथ छापेमारी कर रही है। यह छापेमारी नई आबकारी नीति में कथित घोटाले को लेकर की जा रही है। एलजी ने पिछले महीने सिफारिश की थी।

मनीष सिसोदिया के घर क्यों पड़ा CBI का छापा, क्या हैं आरोप; LG ने की थी सिफारिश
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 19 Aug 2022 09:56 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर शुक्रवार सुबह छापेमारी के लिए सीबीआई की टीम पहुंची है। टीम 21 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी कर रही है। रेड की जानकारी खुद डिप्टी सीएम ने देते हुए कहा कि हम कटट्र ईमानदार हैं। पहले भी कई केस किए जिसमें कुछ नहीं निकला। इसमें भी कुछ नहीं निकलेगा। यह कार्रवाई नई आबकारी नीति को लेकर की जा रही है। पिछले महीने उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने मुख्य सचिव की रिपोर्ट के आधार पर सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। सिसोदिया के पास आबकारी विभाग की जिम्मेदारी भी है। उनपर नई आबकारी नीति में भ्रष्टाचार का आरोप है।

सिसोदिया पर क्या हैं आरोप

उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने नई आबकारी नीति में कथित गड़बड़ियों के आरोपों को लेकर पिछले महीने डिप्टी सीएम के खिलाफ सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। सिसोदिया पर आरोप है कि उन्होंने नीति में नियमों की अनदेखी कर टेंडर दिए। सरकार ने शराब ठेकेदारों को अनुचित तरीके से मुनाफा पहुंचाया। शराब के लाइसेंस देने में नियमों की अनदेखी की गई। इसके अलावा टेंडर देने के बाद शराब ठेकेदारों के 144 करोड़ रुपए माफ किए। मुख्य सचिव की रिपोर्ट में कहा गया है कि नई आबकारी नीति के जरिए कोरोना के बहाने लाइसेंस फीस माफ की गई। नई नीति के जरिए राजस्व को भारी नुकसान पहुंचा है और यह नीति शराब करोबारियों को लाभ पहुंचाने की मंशा से लाई गई। सक्सेना ने मुख्य सचिव को निर्देश दिया था कि वे रिपोर्ट जमा करके बताएं कि नियमों की अनदेखी करते हुए आबकारी नीति को तैयार, लागू और मनमुताबिक बदलाव करने की छूट में किन-किन सरकारी अधिकारियों की भूमिका रही है।

आरव गोपी कृष्ण पर कसा शिकंजा

सिसोदिया के अलावा सीबीआई टीम जिन 21 जगहों पर छापेमारी कर रही है उसमें दिल्ली के तत्कालीन आबकारी आयुक्त आरव गोपी कृष्ण का परिसर भी शामिल है। इससे पहले उपराज्यपाल ने आबकारी नीति में घोटाले के आरोप में तत्कालीन आबकारी आयुक्त आरव गोपी कृष्ण, तत्कालीन आबकारी आयुक्त दानीक्स आनंद कुमार तिवारी सहित 11 अधिकारियों को निलंबित कर दिया था। उन्होंने विजिलेंस को इन अधिकारियों के खिलाफ निलंबन और अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की मंजूरी दी थी।

मुझे तुम्हारी साजिशें तोड़ न सकेंगी: मनीष सिसोदिया

सीबीआई छापेमारी का स्वागत करते हुए डिप्टी सीएम ने कहा कि सीबीआई आई है। उनका स्वागत है। हम कट्टर ईमानदार हैं। लाखों बच्चों का भविष्य बना रहे हैं। बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे देश में जो अच्छा काम करता है उसे इसी तरह परेशान किया जाता है। इसीलिए हमारा देश अभी तक नंबर-1 नहीं बन पाया। केंद्र पर निशाना साधते हुए सिसोदिया ने कहा कि मुझे तुम्हारी साजिशें तोड़ नहीं सकेंगी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'मुझे तुम्हारी साजिशें तोड़ न सकेंगी। मैंने दिल्ली के लाखों बच्चों के लिए ये स्कूल बनाए हैं, लाखों बच्चों की जिंदगी में आई मुस्कान मेरी ताकत है। तुम्हारा इरादा मुझे तोड़ने का है. मेरा इरादा तो ये है…'

epaper