ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRसिसोदिया ने अपनी जमानत के लिए केजरीवाल-संजय सिंह का भी किया जिक्र, HC में क्या दलीलें

सिसोदिया ने अपनी जमानत के लिए केजरीवाल-संजय सिंह का भी किया जिक्र, HC में क्या दलीलें

दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को कथित शराब घोटाले से जुड़े केस में गिरफ्तार किया गया था। आम आदमी पार्टी के दूसरे सबसे बड़े नेता एक साल से अधिक समय से जेल में बंद हैं।

सिसोदिया ने अपनी जमानत के लिए केजरीवाल-संजय सिंह का भी किया जिक्र, HC में क्या दलीलें
Sudhir Jhaएजेंसियां,नई दिल्लीTue, 14 May 2024 06:06 PM
ऐप पर पढ़ें

कथित शराब घोटाले से जुड़े भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया की जमानत याचिका पर मंगलवार को हाई कोर्ट में सुनवाई हुई। जस्टिस स्वर्णकांता शर्मा की अदालत में दोनों ओर से कई दलीलें दीं गईं। कोर्ट ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। सिसोदिया ने ट्रायल कोर्ट से जमानत अर्जी खारिज होने के बाद हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

ईडी ने सुनवाई के दौरान यह भी कहा कि आम आदमी पार्टी को जल्द ही इस केस में आरोपी बनाया जाएगा। जांच एजेंसी के वकील जोएब हुसैन ने सिसोदिया की जमानत अर्जी का विरोध करते हुए कहा कि जल्द ही नई सप्लीमेंट्री चार्जशीट दायर होगी और इसमें आम आदमी पार्टी को आरोपी बनाया जाएगा। इस बीच सिसोदिया के वकील ने जोर दिया कि उनके मुवक्किल को जमानत पर रिहा कर दिया जाए।

सिसोदिया की ओर से पेश हुए वकील मोहित माथुर ने कहा, 'मेरी जमानत अर्जी खारिज किए जाने के बाद तीन आरोपियों को सुप्रीम कोर्ट से कुछ राहत मिल चुकी है। बिनॉय बाबू को ईडी केस में। संजय सिंह को भी ईडी केस में और हाल ही में अरविंद केजरीवाल को भी। मेरे भागने का कोई खतरा नहीं है। मैं करीब 14.5 महीनों से जेल में बंद हूं।' दोनों पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया।

इससे पहले दिल्ली हाई कोर्ट में 8 मई को सिसोदिया की याचिका पर सुनवाई हुई थी। दिल्ली हाई कोर्ट ने ईडी और सीबीआई को जवाब दाखिल करने के लिए और अधिक समय देते हुए मामले को 14 मई तक स्थगित कर दिया था। जस्टिस स्वर्ण कांत शर्मा ने 3 मई को दोनों एजेंसियों को नोटिस जारी करके जवाब मांगा था। लेकिन ईडी और सीबीआई के वकीलों ने कोर्ट से और समय देने की गुजारिश की थी। सिसोदिया के वकील ने और समय की मांग का यह कहते हुए विरोध किया था कि ईडी और सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट को भरोसा दिया था कि छह महीने में ट्रायल शुरू हो जाएगा। 

ट्रायल कोर्ट से जमानत याचिका खारिज होने के बाद सिसोदिया ने 30 अप्रैल को हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। इससे पहले भी सिसोदिया को कई बार कोर्ट से निराशा मिल चुकी है। वित्त वर्ष 2021-22 की शराब नीति में भ्रष्टाचार के आरोपों की वजह से सिसोदिया को  26 फरवरी 2023 को सीबीआई ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद ईडी ने भी उन्हें गिरफ्तार किया था। सिसोदिया इस समय न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल में बंद हैं। ईडी और सीबीआई का दावा है कि विवादित नीति के जरिए शराब कारोबारियों को गलत तरीके से फायदा पहुंचाया गया और बदले में उनसे रिश्वत ली गई।

हालांकि, आम आदमी पार्टी लगातार आरोपों को खारिज करती रही है। इसी केस में आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी इसी साल 21 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें 21 दिन की अंतरिम जमानत दी है। केजरीवाल को 2 जून को दोबारा सरेंडर करके जेल जाना होगा। राज्यसभा सांसद संजय सिंह भी जमानत पर हैं।