ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRनफे सिंह राठी की हत्या के बाद परिवार को धमकाने वाला दबोचा, हरियाणा पुलिस को बड़ी कामयाबी

नफे सिंह राठी की हत्या के बाद परिवार को धमकाने वाला दबोचा, हरियाणा पुलिस को बड़ी कामयाबी

हरियाणा की बहादुरगढ़ पुलिस ने नफे सिंह राठी हत्याकांड के बाद उनके परिवार को फोन पर जान से मारने की धमकी देने वाले को पकड़ लिया है। बहादुरगढ़ पुलिस ने आरोपी को राजस्थान से पकड़ा है।

नफे सिंह राठी की हत्या के बाद परिवार को धमकाने वाला दबोचा, हरियाणा पुलिस को बड़ी कामयाबी
Praveen Sharmaनई दिल्ली। राजन शर्माFri, 01 Mar 2024 12:51 PM
ऐप पर पढ़ें

INLD leader Nafe Singh Rathee killing : हरियाणा की बहादुरगढ़ पुलिस ने नफे सिंह राठी हत्याकांड के बाद उनके परिवार को फोन पर जान से मारने की धमकी देने वाले को पकड़ लिया है। बहादुरगढ़ पुलिस ने आरोपी को राजस्थान से पकड़ा है। नफे सिंह के मर्डर के बाद उनके परिवार को लगातार जान से मारने की धमकियां मिल रही थीं। हालांकि, हत्या के करीब 6 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक नफे सिंह के हत्यारों तक नहीं पहुंच पाई है।

हरियाणा पुलिस धमकी देने वाले आरोपी को पूछताछ के लिए बहादुरगढ़ ला रही है। उम्मीद है कि इस पूछताछ में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह की हत्या को लेकर भी सुराग मिल सकते हैं।

बता दें कि, लंदन में बैठे गैंगस्टर कपिल सांगवान ने बुधवार को एक सोशल मीडिया पोस्ट के जरिये नफे सिंह राठी हत्याकांड हत्या की जिम्मेदारी ली थी। कपिल सांगवान ने कहा था कि मैंने ही नफे सिंह को मरवाया है। इसके बाद से ही हरियाणा पुलिस सोशल मीडिया पोस्ट की जांच कर रही है।

कपिल सांगवान की सोशल मीडिया पोस्ट के अनुसार, ''नफे सिंह की गैंगस्टर मंजीत महल से गहरी दोस्ती थी। नफे सिंह मनजीत महल के भाई संजय के साथ प्रॉपर्टी कब्जा करने का काम करते थे, जो मेरे दुश्मन से हाथ मिलाएगा उसका अंजाम यही होगा।''

उसने आगे कहा था, ''मेरे जीजा और मेरे दोस्तों के मर्डर में इन्होंने महल को सपोर्ट किया था। इनकी दोस्ती का मैं साथ में फोटो डाल रहा हूं। जो मेरे दुश्मनों को सपोर्ट करेगा। मैं उसके दुश्मनों को सपोर्ट करूंगा और पूरी 50 गोलियां उसका इंतजार करेंगी। नफे सिंह ने पावर में रहकर जितने लोगों की जमीन कब्जा की और हत्या कराई पूरे बहादुरगढ़ को पता है लेकिन कोई कुछ नहीं बोल पाया इसकी पावर की वजह से। अगर पुलिस मेरे जीजा और मेरे दोस्तों के मर्डर पर इतनी एक्टिव होती तो मुझे ये करने की जरूरत नहीं होती।''   

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें
अगला लेख पढ़ें