DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दहेज के विवाद में पति ने बीच पंचायत में पत्नी और ससुर को गोलियों से भूना

transgender shot dead in pakistan

गाजियाबाद में दहेज के विवाद के चलते एक व्यक्ति ने बीच पंचायत में अपनी पत्नी और ससुर पर गोलियां बरसा दीं। दोनों को गंभीर हालत में इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, घटना के बाद से आरोपी पति व उसके परिजन फरार हैं। पुलिस ने महिला के भाई की शिकायत पर पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

कविनगर थाना क्षेत्र के हरसांव गाव के रहने वाले अमित यादव ने बताया कि उसकी बहन मोनी यादव की शादी दो साल पूर्व बम्हैटा के सतपाल यादव के बेटे कपिल यादव के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही उसका जीजा कपिल और दहेज लाने की मांग को लेकर उसकी बहन को मारता-पीटता था। 20 दिन पहले भी कपिल यादव ने उसकी बहन के साथ मारपीट की थी। इसके बाद उसकी बहन अपने मायके आ गई थी। सात दिन पहले दोनों के परिवारों में समझौता हो जाने पर मोनी यादव वापस ससुराल चली गई थी।

अमित यादव ने बताया कि बुधवार को उसके जीजा कपिल ने उसकी बहन के साथ फिर से मारपीट की। गुरुवार को इस मामले में कपिल के परिजनों ने एक पंचायत एनएच-24 पर साईं फार्म हाउस के बराबर में स्थित आरामशीन पर बुलाई थी। इसमें कपिल, उसका पिता सतपाल यादव, उसका मामा गबरी, दोस्त शिवा, मोनी यादव और एक अन्य पहले से ही मौजूद थे। अमित उसके पिता मुकेश व दादा विजय इस पंचायत में दो बजकर दस मिनट पर पहुंचे। इस बीच समझौते की बातचीत शुरू हुई तो विवाद हो गया।

अमित के मुताबिक, बातचीत के दौरान कपिल ज्यादा उग्र हो गया और उसने अपनी पिस्टल निकालकर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इस दौरान मुकेश यादव के पैर में दो गोलियां लगीं वहीं मोनी के पैर, पीठ व हाथ में कुल छह गोलियां लगी हैं। फायरिंग करने के बाद कपिल व उसके साथ आए सभी लोग मौके से फरार हो गए। अमित यादव ने इसकी सूचना पुलिस को देने के बाद अपने दोस्तों को दी। अमित के दोस्तों ने उसके पिता व बहन को अपनी कार से उठाकर सर्वोदय अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनका इलाज चल रहा है। अस्पताल में मोनी यादव की हालत ज्यादा गंभीर बताई गई है।

पीड़िता के भाई ने अपने जीजा कपिल यादव, सतपाल यादव, गबरी, शिवा व एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।

फॉर्च्यूनर कार की मांग कर रहा था कपिल

अमित ने बताया कि उसका जीजा कपिल फॉर्च्यूनर कार की मांग कर रहा था। हाल ही में उसके पिता ने सोना व लाखों रुपये की नकदी कपिल को दी थी। शादी के बाद से ही कपिल के परिजन मोनी पर और दहेज की मांग को लेकर दबाव बना रहे थे। इसके लिए मोनी के साथ लगातार मारपीट कर उसे मायके भेज दिया था।

बेटे को लेकर भाग गया आरोपी

फायरिंग करने के बाद कपिल यादव अपने छह माह के बेटे हनु को साथ लेकर भाग गया। कपिल पिछले काफी समय से अपने बेटे को अपने साथ रखने की जिद पर अड़ा हुआ था। मगर उसकी पत्नी उसे बेटा नहीं दे रही थी।

दो माह पहले भी की थी फायरिंग

तीन माह पहले मोनी यादव अपने घर पर आ गई थी। बताया जा रहा है कि दो माह पूर्व पीड़िता अपने बेटे को अस्पताल से टीके लगवाकर वापस आ रही थी। उस दौरान भी कपिल ने मोनी यादव पर फायरिंग कर बेटे को छीनने की कोशिश की थी।

लड़की के भाई की तहरीर पर उसके पति कपिल यादव व चार अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। मामले की जांच के लिए दो टीम बनाई गई है। -आतिश कुमार सिंह, क्षेत्राधिकारी द्वितीय

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Man shot wife and father-in-law during panchayat In Dowry dispute at Ghaziabad