ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRगांव में नई नवेली भाभी पर फिदा था देवर, दिल्ली जाने की बात पर उठा लिया गलत कदम

गांव में नई नवेली भाभी पर फिदा था देवर, दिल्ली जाने की बात पर उठा लिया गलत कदम

उसकी नजर अपनी भाभी पर थी। धीरे-धीरे उसने नजदीकियां बढ़ाई। फिर दोनों के बीच अवैध संबंध भी बन गए। देवर अपनी भाभी की प्यार में इतना पागल हो गया कि उसने भाई को रास्ते से हटाने की साजिश रच डाली।

गांव में नई नवेली भाभी पर फिदा था देवर, दिल्ली जाने की बात पर उठा लिया गलत कदम
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 11 May 2024 08:42 PM
ऐप पर पढ़ें

अमरजीत की शादी आठ महीने पहले हुई थी। वह अपनी पत्नी को माता-पिता और छोटे भाई परमजीत के पास छोड़कर दिल्ली आ गया। परमजीत अपनी नई-नवेली भाभी की खूबसूरती पर मोहित हो गया। धीरे-धीरे दोनों के बीच नजदीकियों बढ़ने लगी। यहां तक कि दोनों के बीच अवैध संबंध भी बनने लगे।

देवर और भाभी के बीच चल रहे इस खेल की जब दिल्ली में रह रहे अमरजीत को भनक लगी तो उसने पत्नी को दिल्ली लाने का फैसला किया। जब उसने पत्नी को दिल्ली लाने की बात घरवालों को बताई तो वे तैयार हो गए, लेकिन उसके छोटा भाई परमजीत ने माता-पिता की देखभाल की बात कहकर भाभी को दिल्ली नहीं ले जाने की बात कही। लेकिन अमरजीत ने कहा कि उसे यहां दिक्कत हो रही है, इसलिए वह पत्नी को दिल्ली लाना चाहता है। जब परमजीत को लगा कि उसका भाई अपनी पत्नी को लेकर दिल्ली चला जाएगा तो उसने अपने भाई की हत्या करने की ठान ली। 

अमरजीत दिल्ली के नागलोई इलाके में रहता था। वह बिहार के समस्तीपुर का रहने वाला था। अपने भाई की हत्या करने के इरादे से परमजीत दो मई को बिहार से दिल्ली पहुंचा। दो दिनों तक उसने भाई की गतिविधियों पर नजर रखी। चार मई की सुबह सोते हुए भाई की गला रेतकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद वह वापस समस्तीपुर लौट आया। सुबह जब लोगों को घटना का पता चला तो उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर मुआयना किया। मृतक का खून से सना शव बिस्तर पर पड़ा था।पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की। पुलिस ने आरोपी को बिहार से धर दबोचा।

डीसीपी जिमी चिरम ने बताया कि घटना चार मई की है। सुबह नौ बजे पुलिस को नागलोई के राव विहार इलाके में एक व्यक्ति की हत्या होने की सूचना मिली थी। मामले की गभीरता को देखते हुए एसीपी ऑपरेशन की देखरेख में तीन टीमों का गठन किया गया। एक टीम ने घटनास्थल के आसपास का सीसीटीवी फुटेज खंगालना शुरू किया। दूसरी टीम ने स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के आधार पर काम शुरू किया।तीसरी टीम मृतक अमरजीत के कॉल डिटेल रिकॉर्ड का विश्लेषण करने में जुट गई। सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि घटना वाले दिन परमजीत मृतक के घर के पास मौजूद था। पुलिस ने बिहार से परमजीत को पकड़ लिया। पूछताछ में भाभी से उसके प्रेम संबंध का खुलासा हुआ। उसने बताया कि वह भाभी से शादी करना चाहता था। भाई ने भाभी को दिल्ली में साथ रखने की तैयारी कर ली थी। उसे रास्ते से हटाने के लिए उसने भाई की हत्या कर दी।