DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी सुलझी तो खुला अवैध संबंध का राज, ई-कॉमर्स कंपनी का ड्राइवर गिरफ्तार

एनसीआरब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी सुलझी तो खुला अवैध संबंध का राज, ई-कॉमर्स कंपनी का ड्राइवर गिरफ्तार

नई दिल्ली। पीटीआई Published By: Praveen Sharma
Thu, 11 Mar 2021 07:00 PM
ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी सुलझी तो खुला अवैध संबंध का राज, ई-कॉमर्स कंपनी का ड्राइवर गिरफ्तार

पश्चिमी दिल्ली के द्वारका इलाके में पुलिस ने एक मजदूर की हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए हत्या के आरोप में 32 वर्षीय एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। यह हत्या अवैध संबंधों के चलते की गई थी।

गिरफ्तार किए गए आरोपी की पहचान द्वारका की जेजे कॉलोनी निवासी अर्जुन के रूप में हुई है। अर्जुन एक ई-कॉमर्स कंपनी में ड्राइवर के रूप में काम करता है। पुलिस ने बताया कि आरोपी के मृतक की पत्नी के साथ अवैध संबंध थे और वह उससे शादी करना चाहता था।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि विनोद कुमार (45) का शव 3 मार्च को द्वारका सेक्टर-13 में मिला था। उसके शरीर पर कोई बाहरी चोट के निशान नहीं मिले थे। हालांकि, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में गला घोंटकर हत्या किए जाने की बात सामने आई। संभवत: हत्या उसी मफलर से की गई थी जो शव की गर्दन के पास मौजूद था। इसके बाद, इस संबंध में हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई।

ये भी पढ़ें : महिला के 18 साल छोटे युवक से थे संबंध, प्रेमी संग रंगे हाथ पकड़ी...

डीसीपी (द्वारका) संतोष कुमार मीणा ने कहा कि जांच के दौरान, पुलिस ने मृतक विनोद की पत्नी के मोबाइल फोन नंबर की कॉल डिटेल खंगालीं और उससे मिले सुराग के आधार पर अर्जुन को गिरफ्तार किया गया था।

डीसीपी ने कहा कि पूछताछ के दौरान, अर्जुन ने कहा कि वह तीन साल पहले विनोद और उसकी पत्नी के संपर्क में आया था क्योंकि वे एक ही कॉलोनी में रहते थे। अर्जुन के जल्द ही विनोद की पत्नी के साथ संबंध बन गए। पुलिस ने कहा कि महिला के तीन बच्चे हैं और अर्जुन को लगता है कि उनमें से दो बच्चे उसके हैं, इसलिए वे एक-दूसरे से शादी करना चाहते थे।

वहीं, मृतक विनोद अपनी पत्नी और बच्चों से मारपीट करता था। इसके चलते अर्जुन और महिला दोनों ही विनोद से छुटकारा पाना चाहते थे और उन्होंने उसे मारने की योजना बनाई थी।

डीसीपी मीणा ने कहा कि 2 मार्च को महिला ने अर्जुन को बताया कि उसका पति शराब पी रहा है, जिसके बाद अर्जुन उसके घर गया और उसे और शराब पिलाने की बात कही। वह विनोद को अपने स्कूटर पर द्वारका के डीडीए पार्क में ले जाया जहां उसने एक मफलर से विनोद का गला घोंट दिया।

संबंधित खबरें