ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली में दुकान के भीतर 3 दिन तक बंधक बनाकर पीटा, हाथ-पैर तोड़े;  क्या थी उसकी गलती?

दिल्ली में दुकान के भीतर 3 दिन तक बंधक बनाकर पीटा, हाथ-पैर तोड़े;  क्या थी उसकी गलती?

दिल्ली के मोती नगर इलाके में एक 30 वर्षीय व्यक्ति को दुकान के भीतर बंधक बनाकर पीटने का मामला सामने आया है। तीन लोगों ने उस व्यक्ति को तीन दिन तक बंधक बनाए रखा और इस दौरान उसे बुरी तरह पीटा गया।

दिल्ली में दुकान के भीतर 3 दिन तक बंधक बनाकर पीटा, हाथ-पैर तोड़े;  क्या थी उसकी गलती?
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 16 May 2024 10:30 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मोती नगर इलाके में एक 30 वर्षीय व्यक्ति को बंधक बनाकर पीटने का मामला सामने आया है। तीन लोगों ने उस व्यक्ति को तीन दिन तक बंधक बनाए रखा और इस दौरान उसे बुरी तरह पीटा गया। आरोपियों में उस व्यक्ति का मालिक भी शामिल है, जिसने उसे नौकरी पर रखा था। बताया जाता है कि शराब पीने के दौरान इन लोगों के बीच झगड़ा हुआ था।

पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) विचित्र वीर ने बताया कि मोती नगर थाने में मंगलवार को एक कॉल आई। कॉल करने वाले ने बताया कि उसके भाई को बंधक बना लिया गया है और उसे तीन दिन से पीटा जा रहा है। इसके बाद पुलिस की एक टीम उस व्यक्ति की तलाश में जुट गई। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पीड़ित व्यक्ति को एक दुकान के अंदर बंधक बनाकर रखा गया था। जांच के दौरान पता चला कि 11 मई को मोती नगर के कर्मपुरा के सुपर सेंटर मार्केट में पीड़ित व्यक्ति और तीन अन्य लोग शराब पी रहे थे। 

इस दौरान किसी बात को लेकर आपस में उनका झगड़ा शुरू हो गया। उसके बाद आरोपियों ने उसे बुरी तरह पीटा और दुकान के अंदर ही बंधक बना लिया। इस दौरान भी आरोपियों ने उससे मारपीट की। पीटने से पीड़ित व्यक्ति के हाथ और पैर में फैक्चर आया है और उसके सिर पर भी चोट है। बंधक बनाने और मारपीट करने वालों में उसका मालिक भी शामिल था, जसने उसे नौकरी पर रखा था। तीन दिन बाद  आरोपियों ने उसे छोड़ दिया।

पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर बुधवार को तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपियों के नाम 54 वर्षीय सुरेंद्र, 33 वर्षीय सोनू और 28 वर्षीय मनीष बताया जा रहा है।    

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें