ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली में INDIA गठबंधन और भाजपा में सीधी टक्कर, AAP इन नेताओं को दे सकती है मौका

दिल्ली में INDIA गठबंधन और भाजपा में सीधी टक्कर, AAP इन नेताओं को दे सकती है मौका

AAP और कांग्रेस के बीच सीटों के बंटवारे की घोषणा के बाद लोकसभा चुनाव की बिसात बिछनी शुरू हो गई है। AAP किन नेताओं को दे सकती है मौका, क्या लगाए जा रहे कयास? इस रिपोर्ट में जानें...

दिल्ली में INDIA गठबंधन और भाजपा में सीधी टक्कर, AAP इन नेताओं को दे सकती है मौका
Krishna Singhभाषा,नई दिल्लीSun, 25 Feb 2024 12:23 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में आम आदमी पार्टी (AAP) और कांग्रेस के बीच सीटों के बंटवारे की घोषणा के बाद लोकसभा चुनाव की बिसात बिछनी शुरू हो गई है। दिल्ली में AAP चार सीटों पर जबकि कांग्रेस तीन सीटों पर चुनाव लड़ेगी। आम आदमी पार्टी चार सीटों- नई दिल्ली, दक्षिण दिल्ली, पश्चिम दिल्ली और पूर्वी दिल्ली - पर अपने उम्मीदवार उतारेगी, जबकि कांग्रेस उत्तर पूर्वी दिल्ली, उत्तर पश्चिमी दिल्ली और चांदनी चौक सीट पर चुनाव लड़ेगी। माना जा रहा है कि आप-कांग्रेस के एकसाथ आने से दिल्ली में चुनावी मुकाबला द्विध्रुवीय हो जाएगा। AAP किन नेताओं को दे सकती है मौका, क्या लगाए जा रहे कयास? इस रिपोर्ट में जानें...

दक्षिण दिल्ली सीट से इन्हें मिल सकता है मौका
सूत्रों ने कहा कि दक्षिण दिल्ली लोकसभा सीट पर आप चुनाव लड़ेगी और इसके छतरपुर विधायक करतार सिंह तंवर यहां से संभावित उम्मीदवार हो सकते हैं। यह सीट 2019 में भाजपा के रमेश बिधूड़ी ने आप के राघव चड्ढा को 3.65 लाख से अधिक वोट से हराकर दूसरी बार जीती थी।

शिव चरण गोयल के नाम की भी चर्चा
पूर्वी दिल्ली और नई दिल्ली सीट पर भी आम आदमी पार्टी चुनाव लड़ेगी। पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने 2019 में भाजपा के टिकट पर पूर्वी दिल्ली सीट जीती थी। उन्होंने दिल्ली कांग्रेस के मौजूदा अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली को 3.9 लाख से अधिक वोटों से हराया था। सूत्रों ने बताया कि आप मोतीनगर से अपने विधायक शिव चरण गोयल को नई दिल्ली लोकसभा सीट से मैदान में उतारने पर विचार कर रही है।

दांव पर इन दिग्गजों की प्रतिष्ठा 
दिलचस्प बात यह है कि आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। आप सरकार के दो अन्य मंत्रियों, सौरभ भारद्वाज और राज कुमार आनंद का भी निर्वाचन क्षेत्र नयी दिल्ली संसदीय क्षेत्र में है। साल 2019 में कांग्रेस के मौजूदा कोषाध्यक्ष अजय माकन को भाजपा उम्मीदवार मीनाक्षी लेखी ने 2.5 लाख से ज्यादा वोटों से हराया था।

प्रचार रणनीति पर होगा मंथन
साल 2019 के लोकसभा चुनाव में दिल्ली की सभी सात सीट पर भारी हार के बावजूद कांग्रेस छह सीट पर दूसरे नंबर पर रही थी, जबकि आप तीसरे स्थान पर रही थी। दक्षिणी दिल्ली से आप के राघव चड्ढा एकमात्र ऐसे उम्मीदवार थे, जो दूसरे नम्बर पर रहे थे। इसके अलावा, आप के तीन उम्मीदवारों-- पंकज गुप्ता चांदनी चौक से, नई दिल्ली से ब्रिजेश गोयल और उत्तरपूर्व दिल्ली से दिलीप पांडे - की 2019 में जमानत जब्त हो गई थी। आप महासचिव (संगठन) संदीप पाठक ने कहा कि चुनाव के लिए प्रचार रणनीति पर दोनों पक्ष बाद में मिलकर चर्चा करेंगे।  

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें