ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRगांव-गांव की फांक रहे धूल, लेकिन गौतमबुद्धनगर सीट पर अपने लिए वोट नहीं कर पाएंगे ये 3 उम्मीदवार; वजह क्या

गांव-गांव की फांक रहे धूल, लेकिन गौतमबुद्धनगर सीट पर अपने लिए वोट नहीं कर पाएंगे ये 3 उम्मीदवार; वजह क्या

लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों के उम्मीदवार चुनाव प्रचार में जुट गए हैं। वे गांव-गांव घूमकर अपने लिए जनता से वोट मांग रहे हैं। मगर गौतमबुद्धनगर सीट पर तीन उम्मीदवार अपने लिए वोट नहीं पाएंगे।

गांव-गांव की फांक रहे धूल, लेकिन गौतमबुद्धनगर सीट पर अपने लिए वोट नहीं कर पाएंगे ये 3 उम्मीदवार; वजह क्या
Sneha Baluniआशीष धामा,ग्रेटर नोएडाThu, 11 Apr 2024 09:26 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव में किस्मत आजमाने उतरे विभिन्न दलों के नेता भले ही गांव-गांव घूमकर अपने लिए जनता से वोट मांग रहे हैं, लेकिन सच यह भी है कि चुनावी दंगल में उतरे 15 में से तीन प्रत्याशी ऐसे भी हैं, जो खुद के वोट से अपना भाग्य तय नहीं कर सकेंगे। इसका कारण यह है कि गौतमबुद्धनगर सीट पर उतरे इन प्रत्याशियों का लोकसभा क्षेत्र के बाहर का पता है। दो प्रत्याशी दिल्ली, जबकि एक बुलंदशहर का रहने वाला है।

बसपा प्रत्याशी का भी यहां पर वोट नहीं

गौतमबुद्धनगर सीट से लोकसभा चुनाव में उतरे बहुजन समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी राजेंद्र सिंह सोलंकी का गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीट पर वोट नहीं है। वह बुलंदशहर के सिविल लाइन 3 काले आम के रहने वाले है। यह क्षेत्र बुलंदशहर की सदर विधानसभा में आता है। हालांकि, राजेंद्र सिंह सोलंकी गौतमबुद्धनगर में लंबे समय से सक्रिय हैं। वह नामांकन के बाद से ही जनता के बीच जाकर वोट की अपील कर रहे हैं। क्षेत्र की जनता भी उनपर खूब विश्वास जताती नजर आ रही है। उनके एक समर्थक ने यह भी बताया कि राजेंद्र सोलंकी का पैतृक गांव गौतमबुद्धनगर लोकसभा क्षेत्र में ही आता हैं, लेकिन उनके हलफनामे में उनका पता बाहर का है।

राजीव मिश्रा का लक्ष्मीनगर में वोट

गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे जय हिंद नेशनल पार्टी के प्रत्याशी राजीव मिश्रा दिल्ली के लक्ष्मी नगर के रहने वाले हैं। इनका वोट भी दिल्ली में ही बना है। यह गौतमबुद्धनगर से इस वर्ष लोकसभा का चुनाव लड़ रहे हैं। राजीव मिश्रा बताते हैं कि वह प्रतिदिन गौतमबुद्धनगर में घूमकर जनता से वोट मांग रहे हैं। लोकसभा क्षेत्र में उनका वोट न होने पर उन्होंने तर्क दिया है कि उन्हें जीतने के लिए सिर्फ एक वोट काफी नहीं हैं, उन्हें यहां से सांसद बनने के लिए कम से कम साढ़े 8 लाख वोट चाहिए। उन्होंने कहा कि वह अपनी वोट अपने लोकसभा क्षेत्र में डालेंगे। साथ ही उन्हें वोट देने के लिए गौतमबुद्धनगर की जनता से अपील कर रहे हैं।

पराग कौशिक का सीलमपुर में वोट 

निर्दलीय प्रत्याशी पराग कौशिक का भी गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीट पर अपना वोट नहीं है। यह न्यू सीलमपुर के रहने वाले हैं, उनका वोट भी वहीं पर ही बना हुआ है। हालांकि पराग कौशिक का कहना है कि गौतमबुद्धनगर उनकी कर्म भूमि हैं। उनके रिश्तेदार गौतमबुद्धनगर लोकसभा क्षेत्र के रहने वाले हैं। वह लगातार अपने मुद्दों के साथ गौतमबुद्धनगर की जनता के बीच पहुंच रहे हैं और उनसे वोट की अपील कर रहे हैं।