ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली में सबसे ज्यादा टैक्स चोरी, ऐक्शन में उप राज्यपाल; केजरीवाल को खत लिख दी यह सलाह

दिल्ली में सबसे ज्यादा टैक्स चोरी, ऐक्शन में उप राज्यपाल; केजरीवाल को खत लिख दी यह सलाह

दिल्ली के एलजी वी के सक्सेना ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चिट्ठी लिखकर सलाह दी है कि वो वित्त मंत्री को निर्देश दें कि इस जीएसटी चोरी के संबंध में वो एक विस्तृत जांच करवाएं।

दिल्ली में सबसे ज्यादा टैक्स चोरी, ऐक्शन में उप राज्यपाल; केजरीवाल को खत लिख दी यह सलाह
Nishant Nandanपीटीआई,नई दिल्लीMon, 19 Feb 2024 08:21 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में GST की चोरी को लेकर उप राज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने सख्त रवैया अपनाया है। एलजी वी के सक्सेना ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चिट्ठी लिखकर सलाह दी है कि वो वित्त मंत्री को निर्देश दें कि इस जीएसटी चोरी के संबंध में वो एक विस्तृत जांच करवाएं और टैक्स प्रशासन पर भी कड़ाई करें। उप राज्यपाल ने अपनी चिट्ठी में लिखा है, 'दिल्ली में पूरे देश से ज्यादा जीएसटी की चोरी हुई है जो काफी अपमानजनक है। जो सभी 483 फर्जी फर्मों की पहचान हुई थी उनसे करीब 3,028 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी का पता चला है।'

यह काफी संदिग्ध है कि देश की राजधानी दिल्ली टैक्स चोरी के मामले में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में अव्वल है। यह एक गंभीर मामला है और इसमें जीएसटी विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से इनकार नहीं किया जा सकता है।' वी के सक्सेना ने मुख्यमंत्री को सलाह दी है कि वो वित्त मंत्री से कहें कि इस मामले में गहन छानबीन कराएं और टैक्स चोरी की वजह की जड़ तक पहुंचे। 

एलजी ने अपने खत में कहा, 'इससे ना सिर्फ यह पता चल रहा है कि राष्ट्रीय राजधानी में टैक्स गवर्नेंस खराब है बल्कि इससे सरकारी खजाने को भी भारी नुकसान हुआ था। इस पैसे का इस्तेमाल जनता के हित में किया जाना था।'

तिमाही की रिपोर्ट में दिल्ली में टैक्स चोरी को लेकर कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। एलजी ने केजरीवाल को जो खत लिखा है उसमें कहा, 'मुझे भरोसा है कि आप निजी तौर इस मामले में रूचि लेंगे और मुझे इस बात से अवगत कराएंगे कि शहर में टैक्स विभाग को टाइट करने के लिए क्या कदम उठाए जा रहे हैं।' बता दें कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्स एंड कस्टम की रिपोर्ट जनवरी में सामने आई थी। इस रिपोर्ट में फर्जी रजिस्ट्रेशन और फर्जी इनवॉयस के बारे में बताया गया है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें