ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRअहमद जैसे और भी हैवान; शहीद कैप्टन अंशुमान की पत्नी पर गंदे कॉमेंट्स, NCW की दिल्ली पुलिस से शिकायत

अहमद जैसे और भी हैवान; शहीद कैप्टन अंशुमान की पत्नी पर गंदे कॉमेंट्स, NCW की दिल्ली पुलिस से शिकायत

महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस के कमिश्नर संजय अरोड़ा को लिखे पत्र में बताया कि अहमद नाम के एक शख्स ने स्मृति सिंह की तस्वीर पर भद्दा कमेंट किया है। वह दिल्ली का रहने वाला है।

अहमद जैसे और भी हैवान; शहीद कैप्टन अंशुमान की पत्नी पर गंदे कॉमेंट्स, NCW की दिल्ली पुलिस से शिकायत
Devesh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 10 Jul 2024 03:01 PM
ऐप पर पढ़ें

कैप्टन अंशुमान सिंह की विधवा पत्नी की नम आंखों को देखकर हर कोई भावुक हो गया था। दरअसल, कैप्टन अंशुमान की वीरता के लिए उन्हें मरणोपरांत कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया है। उनकी मां मंजू सिंह और पत्नी स्मृति को राष्ट्रपति ने पुरस्कार दिया। लेकिन सोशल मीडिया पर कुछ हैवानों ने उनकी तस्वीरों पर ऐसे-ऐसे भद्दे कमेंट किए कि लोगों में गुस्सा फैल गया है। राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने इस पर ऐक्शन लिया है और दिल्ली पुलिस को लेटर लिख उचित कार्रवाई की मांग की है।

अवार्ड लेते फोटो पर बहुत गंदा कमेंट
कैप्टन अंशुमान सिंह की मां और पत्नी को राष्ट्रपति भवन में सम्मानित किया गया। कीर्ति चक्र लेते हुए उनकी तस्वीरें खूब शेयर की गईं। महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस के कमिश्नर संजय अरोड़ा को लिखे पत्र में बताया कि अहमद नाम के एक शख्स ने स्मृति की तस्वीर पर भद्दा कमेंट किया है। वह दिल्ली का रहने वाला है। 'लाइव हिन्दुस्तान' ने उस एक्स लिंक को भी देखा जो महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को भेजा है। लिंक खोलते ही अहमद नाम के एक यूजर का कमेंट दिखता है। दिवंगत कैप्टन की पत्नी को लेकर ऐसी बात लिखी गई है जो यहां नहीं छापा जा सकता। 

सिर्फ अहमद नहीं और भी हैं हैवान
महिला आयोग ने लेटर की कॉपी एक्स पर भी पोस्ट की है। उस पोस्ट के नीचे कई और लोगों के कमेंट के स्क्रीनशॉट शेयर किए जा रहे हैं। अहमद के अलावा राजीव परीक, दिलीप कुमार, अमजद, उमर, जैसे न जाने और कितने लोग हैं जिन्होंने तस्वीरों पर अश्लील टिप्पणी की है। सभी ने स्मृति को लेकर भद्दे-भद्दे कमेंट किए हैं। एक महिला जिसने अपने पति को खो दिया, एक मां जिसके घर का चिराग बुझ गया, उनके प्रति ऐसे हैवानों की यह गंदी भावना देखकर किसी का भी खून खौल उठेगा। सोशल मीडिया पर लोग ऐसे दरिंदों पर सख्त ऐक्शन की मांग कर रहे हैं।

हादसे के एक दिन पहले हुई थी बात
दरअसल, सियाचिन ग्लेशियर में आग लगने की घटना के दौरान कैप्टन अंशुमान सिंह शहीद हो गए थे। अपने पति के लिए कीर्ति चक्र लेने के बाद स्मृति सिंह ने बताया कि हादसे के एक दिन पहले उनकी फोन पर लंबी बात हुई थी। फोन पर दोनों घर बनाने और फ्यूचर प्लानिंग के बारे में बातचीत किए। अगले दिन उन्हें पता चला कि उनके पति अब इस दुनिया में नहीं रहे। साथियों की जान बचाने के दौरान वह शहीद हो गए।