ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली की सीमाएं सील, किसानों के मार्च को देख क्या स्कूल खुलेंगे? आया अपडेट

दिल्ली की सीमाएं सील, किसानों के मार्च को देख क्या स्कूल खुलेंगे? आया अपडेट

किसानों के 'दिल्ली चलो' मार्च को देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी में एक महीने के लिए धारा 144 लागू कर दी गई है। ऐसे में सवाल उठता है कि 13 फरवरी को किसानों के मार्च के बीच क्या दिल्ली में स्कूल खुलेंगे?

दिल्ली की सीमाएं सील, किसानों के मार्च को देख क्या स्कूल खुलेंगे? आया अपडेट
Krishna Singhललित कौशिक,नई दिल्लीMon, 12 Feb 2024 06:32 PM
ऐप पर पढ़ें

किसानों के 13 फरवरी को 'दिल्ली चलो' मार्च को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था बेहद कड़ी कर दी है। दिल्ली पुलिस ने  तनाव और अशांति की आशंका को देखते हुए एहतियात के तौर पर राष्ट्रीय राजधानी में एक महीने के लिए धारा 144 लागू कर दी है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या 13 फरवरी को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में स्कूल खुलेंगे। अब इस बारे में अपडेट सामने आया है। 

फिजिकल मोड में नहीं लगेंगी कक्षाएं
किसानों के ऐलान के बाद दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों में स्थित कुछ स्कूलों ने बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए ऑनलाइन मोड में पढ़ाई कराने का निर्णय लिया है। स्कूलों में फिजिकल मोड में कक्षाएं नहीं लगेंगी। सिंघु बॉर्डर पर बैरिकेडिंग होने की वजह से स्कूल बसों और वैन को बच्चों को लाने और छोड़ने में परेशानी की आशंका के मद्देनजर स्कूलों ने यह निर्णय लिया है।

ऑनलाइन मोड में पढ़ाई
बता दें कि कुछ बच्चे सोनीपत से दिल्ली में पढ़ने आते हैं। सोमवार को उनके अभिभावक परेशानियों से जूझते हुए दिल्ली पहुंचे और परीक्षा प्रवेश पत्र प्राप्त किया। नरेला स्थित कस्तूरी राम इंटरनेशनल स्कूल की प्रधानाचार्य सुचित्रा कत्याल ने बताया कि बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए 13 फरवरी को ऑनलाइन पढ़ाई कराएंगे। सोनीपत से भी बच्चे सिंघु बॉर्डर और दूसरे रास्तों से होते हुए स्कूल में पढ़ने के लिए दिल्ली आते हैं, इसलिए हमारे लिए बच्चों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता है। 

बच्चों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता
एक्शन कमेटी ऑफ अनएडेड रिकॉग्नाइज्ड प्राइवेट स्कूल के अध्यक्ष भरत अरोड़ा ने कहा कि दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों में स्थित स्कूल ऑनलाइन कक्षाओं पर विचार कर रहे हैं। किसानों का 13 जनवरी को दिल्ली कूच का ऐलान है। ऐसे में बच्चों की सुरक्षा भी जरूरी है। दिल्ली के भी बच्चे सोनीपत में पढ़ने जाते है और वहां से भी बच्चे दिल्ली में पढ़ने के लिए आते हैं। 

अभिभावक भी डरे
घोघा गांव निवासी लोकेश भारद्वाज ने बताया कि उन्होंने अपने बच्चों की 13 फरवरी को छुट्टी कराने का निर्णय लिया है। सोनीपत इलाके के एक स्कूल में उनके बच्चे जाते हैं। इस बीच दिल्ली पुलिस ने बयान जारी कर कहा है कि हरियाणा, यूपी समेत अन्य राज्यों के निकटवर्ती जिलों की सीमाओं से आने वाले सभी वाहनों की कड़ी और गहन जांच करने के बाद ही उन्हें प्रवेश की इजाजत दी जाएगी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें