ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRदिल्ली में मेट्रो स्टेशन के नीचे 'खालिस्तान जिंदाबाद' किसने लिखा, मची सनसनी

दिल्ली में मेट्रो स्टेशन के नीचे 'खालिस्तान जिंदाबाद' किसने लिखा, मची सनसनी

दिल्ली में दो मेट्रो स्टेशनों के नीचे यह नारे लिखे गए हैं। दीवार पर 'खालिस्तान जिंदाबाद' लिखा हुआ मिलने से सनसनी मची हुई है। मेट्रो स्टेशन के नीचे कि खालिस्तान के समर्थन में यह नारा किसने लिखा है?

दिल्ली में मेट्रो स्टेशन के नीचे 'खालिस्तान जिंदाबाद' किसने लिखा, मची सनसनी
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 12 May 2024 02:14 PM
ऐप पर पढ़ें

देश में लोकसभा चुनाव को लेकर हलचल तेज है। इस बीच दिल्ली में खालिस्तान के समर्थन में नारा लिखा दिया गया। इस खबर के सामने आने के बाद से हड़कंप मचा हुआ। दिल्ली के दो मेट्रो स्टेशनों के नीचे यह नारे लिखे गए हैं। दीवार पर 'खालिस्तान जिंदाबाद' लिखा हुआ मिलने से सनसनी मची हुई है। मेट्रो स्टेशन के नीचे खालिस्तान के समर्थन में यह नारा किसने लिखा है? अभी इसके बारे में कुछ भी पता नहीं चल सका है। 

बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस को जैसे ही इस हरकत के बारे में पता चला वो ऐक्शन में आ गईष पुलिस की एक टीम तुरंत वहां पहुंच गई और देश विरोधी नारों को मिटा दिया गया। अब पुलिस उस शख्स की तलाश में जुटी है जिसने मेट्रो के नीचे खालिस्तान के समर्थन में यह बातें लिखी हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस आरोपी तक पहुंचने के लिए सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। दिल्ली पुलिस ने एक केस दर्ज कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है।

'NDTV' ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि अमेरिका में बैठे कुख्यात खालिस्तानी आतंकवादी गुरुपवंत सिंह पन्नू ने सोशल मीडिया पर जिम्मेदारी ली है कि दिल्ली के मेट्रो स्टेशन पर यह स्लोगन उसी के इशारे पर लिखे गए हैं। हालांकि, दिल्ली पुलिस के अलावा मेट्रो पुलिस ने भी इस संबंध में केस दर्ज कर लिया है और तफ्तीश जारी है।

देश की राजधानी दिल्ली में यह कोई पहला मौका नहीं है जब इस तरह खालिस्तान के समर्थन में नारे लिखे गए हैं। इससे पहले इसी साल मार्च के महीने में पश्चिमी दिल्ली के पंजाबी बाग मेट्रो स्टेशन के एक खंभे पर खालिस्तान के समर्थन में नारे लिए दिए गए थे। इस मामले में उस वक्त भी दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था। उससे पहले गणतंत्र दिवस यानी 26 जनवरी से कुछ ही दिनों पहले उत्तर नगर इलाके में एक सरकारी स्कूल की दीवारों पर भी खालिस्तान के समर्थन में बातें लिखी गई थीं।