ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRविवादित बयान पर अपनों ने छोड़ा साथ, करणी सेना अध्यक्ष सूरजपाल अम्मू के बहिष्कार का ऐलान

विवादित बयान पर अपनों ने छोड़ा साथ, करणी सेना अध्यक्ष सूरजपाल अम्मू के बहिष्कार का ऐलान

विवादित बयान देकर फंसे करणी सेना अध्यक्ष सूरजपाल अम्मू के खिलाफा सोमवार को आयोजित सर्वसमाज की महापंचायत ने अम्मू के बहिष्कार का ऐलान किया। अम्मू को किसी भी कार्यक्रम का निमंत्रण नहीं दिया जाएगा।

विवादित बयान पर अपनों ने छोड़ा साथ, करणी सेना अध्यक्ष सूरजपाल अम्मू के बहिष्कार का ऐलान
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,फरीदाबादTue, 25 Jun 2024 07:31 AM
ऐप पर पढ़ें

करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूरजपाल अम्मू के विवादित बयान के खिलाफ सोमवार को आयोजित सर्वसमाज की महापंचायत ने अम्मू के बहिष्कार का ऐलान किया। महापंचायत के फैसले का पालन नहीं करने वालों को भी बुलाने पर बहिष्कार किया जाएगा। 60 सदस्यों की कमेटी मंगलवार को जिला पुलिस कमिश्नर से मुलाकात कर पूर्व में दी गई अम्मू के खिलाफ मामला दर्ज कराने की मांग करेंगी। महापंचायत के दौरान अग्रसेन भवन के पास पुलिस की कड़ी सुरक्षा सुबह से की गई थी। शहर के पलवल जाने वाले मार्ग पर स्थित अग्रसेन भवन में अम्मू के विवादित बयान के विरोध में महापंचायत हुई।

महापंचायत में दिल्ली, बदरपुर समेत फरीदाबाद, पलवल, बल्लभगढ़, रेवाड़ी, पटौदी, बावल, गुरुग्राम, ग्वाल पहाड़ी आदि क्षेत्र से आए सर्वसमाज के लोगों ने भाग लिया। महापंचायत की अध्यक्षता जाट समुदाय के 360 गांव के चौधरी गांव झाड़सा निवासी श्याम सिंह ठाकरान ने की। इसमें करीब 500 लोग मौजूद थे। पलवल से पूर्व विधायक सुभास चौधरी, सोहना पूर्व विधायक तेजपाल तंवर, रोहताश खटाना, कुलभूषण भारद्वाज, प्रदीप जेलदार, धर्मेन्द्र खटाना, अनंतराम तवंर आदि लोग पहुंचे थे।

किसी भी कार्यक्रम में आमंत्रण नहीं देंगे

सर्वसमाज महापंचायत की अध्यक्षता कर रहे श्याम सिंह ठाकरान ने 21 सदस्यों की ओर से लिया गया फैसला सुनाते हुए कहा कि करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष का सर्वसमाज में व्यक्तिगत तौर पर बहिष्कार किया जाता है। किसी भी प्रकार के राजनीतिक, शादी-विवाह, लगन-सगाई, भात-छूछक, उद्घाटन या धार्मिक कार्यक्रम में नहीं बुलाया जाएगा। 12 जून को शिकायत के आधार पर मामला दर्ज करने की मांग की जाएगी। इस दौरान सोहना से पूर्व विधायक तेजपाल तंवर ने कहा कि सार्वजनिक फैसले का अमल करना चाहिए। वहीं जजपा नेता रोहताश खटाना ने कहा कि राजपूत समाज के लोगों के साथ बैठक करके उक्त विवादित बयान को लेकर सामूहिक रूप से विचार किया जाए।

हरियाणा भाजपा इस्तीफा दिया

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हरियाणा इकाई के प्रवक्ता सूरज पाल अम्मू ने गुजरात में उम्मीदवार के चयन को लेकर गुरुवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। अम्मू करणी सेना के अध्यक्ष भी हैं। अम्मू ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को अपना इस्तीफा भेज दिया है। अम्मू ने 2018 में फिल्म ‘पद्मावत’ के खिलाफ टिप्पणी कर विवाद खड़ा कर दिया था। उन्होंने अपने इस्तीफे में कहा कि गुजरात में एक ऐसे उम्मीदवार को पार्टी ने टिकट दिया, जिसने महिलाओं पर भद्दी टिप्पणियां की थीं, जिसे पूरा क्षत्रिय समुदाय अपमान के रूप में देखता है।