ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRशादी में मेहमान से टच हो गई जूठी ट्रे, वेटर को पटक-पटककर मार डाला; जंगल में फेंका शव

शादी में मेहमान से टच हो गई जूठी ट्रे, वेटर को पटक-पटककर मार डाला; जंगल में फेंका शव

गाजियाबाद के लोनी में पुलिस ने मैरिज होम के पार्टनर सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है। शादी समारोह में एक मेहमान से जूठी ट्रे टच हो जाने पर वेटर को पटक-पटककर मार दिया फिर शव को जंगल में फेंक दिया।

शादी में मेहमान से टच हो गई जूठी ट्रे, वेटर को पटक-पटककर मार डाला; जंगल में फेंका शव
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,लोनीThu, 07 Dec 2023 07:32 AM
ऐप पर पढ़ें

गाजियाबाद में लोनी के गढ़ी कटैया गांव के जंगल में 18 नवंबर को युवक का शव मिलने की घटना का अंकुर विहार पुलिस ने बुधवार को खुलासा कर दिया। पुलिस के मुताबिक युवक मैरिज होम में वेटर का काम करता था। 17 नवंबर को शादी समारोह में जूठी ट्रे लगने पर एक मेहमान, उसके साथियों और मैरिज होम के पार्टनर ने वेटर को पटक-पटक कर मार डाला। कर्मचारियों से शव जंगल में फिंकवा दिया। पुलिस ने पार्टनर और दो कर्मचारियों को पकड़ लिया है।

एसीपी अंकुर विहार रवि प्रकाश सिंह ने बताया कि 18 नवंबर को गढ़ी कटैया गांव के जंगल में एक युवक का शव मिला था। सूचना पर पहुंची अंकुर विहार थाने की पुलिस ने जांच की तो मृतक की पहचान शंकर विहार डीएलएफ निवासी 26 वर्षीय पंकज पुत्र भगवानदास के रूप में हुई। घर जाने पर मां ने बताया कि पंकज शादी-समारोहों में काम करता था। वह कभी-कभी दो-तीन दिन तक घर नहीं आता था। 

एसीपी के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में चोट लगने से मौत होने की पुष्टि हुई थी। 19 नवंबर को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपकर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी थी। एसीपी के मुताबिक जांच में पता चला कि शव मिलने से एक दिन पहले 17 नवंबर को पंकज पुस्ता रोड स्थित सीजीएस वाटिका मैरिज होम में काम करने गया था। वह सीजीएस वाटिका मैरिज होम के पार्टनर मनोज गुप्ता के कहने पर ठेकेदार सर्वेश के माध्यम से वेटर का काम कर रहा था। पुलिस ने मैरिज होम में जाकर पूछताछ की तो पंकज की हत्या के संबंध में अहम साक्ष्य मिले।

ईंट से हमला करलहूलुहान किया

पुराने बस अड्डे के पास गाली-गलौज का विरोध करने पर चाय विक्रेता और उसके बेटे ने युवक के साथ मारपीट कर दी। इस दौरान ईंट से हुए हमले में युवक की आंख लहूलुहान हो गई। 21 नवंबर को हुई घटना के बाद पीड़ित ने उपचार कराया और पांच दिसंबर को सिहानी गेट थाने में केस दर्ज कराया। मसूरी में रहने वाले शहीद का कहना है कि 21 नवंबर की शाम करीब चार बजे वह काम से घर जा रहे थे। पुराने बस अड्डे के पास वह लघुशंका के लिए रूके। इसी दौरान वहां खड़े एक युवक ने गाली-गलौज शुरू कर दी। 

विरोध करने पर आरोपी का बेटा भी आ गया, जिसके बाद दोनों ने मारपीट शुरू कर दी। शहीद का कहना है कि आरोपियों ने ईंट उठाकर मारी, जो उनकी आंख पर जाकर लगी। आंख की पुतली फटने से वह बुरी तरह लहूलुहान हो गए। बाद में पता चला कि आरोपी राजू चाय वाला और उसका बेटा है। राजू पुराने बस अड्डे पर चाय की दुकान चलाता है। शहीद का कहना है कि वह सिहानी गेट थाने गए तो पुलिस ने पहले इलाज कराने को कहा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें