ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRअगले वर्ष तक दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा जेवर एयरपोर्ट, कनेक्टर बनने से इन इलाकों में खत्म होगा जाम

अगले वर्ष तक दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा जेवर एयरपोर्ट, कनेक्टर बनने से इन इलाकों में खत्म होगा जाम

दिल्ली-मुंबई कनेक्टर को राजधानी में वाहनों का दबाव कम करने की दिशा में अहम माना जा रहा है। इसके खुलने पर प्रतिदिन दो से ढाई लाख पैसेंजर पर कार यूनिट (पीसीयू) का दबाव कम होगा।

अगले वर्ष तक दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा जेवर एयरपोर्ट, कनेक्टर बनने से इन इलाकों में खत्म होगा जाम
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानMon, 12 Feb 2024 06:39 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी दिल्ली और जेवर एयरपोर्ट को सीधे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जोड़ने के लिए नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने कनेक्टर के निर्माण कार्य में तेजी के निर्देश दिए हैं। इसके लिए लक्ष्य रखा गया है कि अगले वर्ष जून तक जेवर को कनेक्टर के जरिए एक्सप्रेसवे से जोड़ दिया जाएगा, लेकिन उससे पहले इसी वर्ष अगस्त तक दिल्ली को कनेक्टर से जोड़ने का काम पूरा कर लिया जाएगा।

कनेक्टर का निर्माण दो हिस्सों में किया जा रहा है। पहले चरण में गुरुग्राम की सीमा में वेस्टर्न पेरिफेरल स्थित लूप से फरीदाबाद, बल्लभगढ़ से यमुना कैनाल के रास्ते दिल्ली में सरिता विहार होते हुए आश्रम और डीएनडी के बीच गोल चक्कर पार्क तक 60 किलोमीटर का कनेक्टर बनाया जा रहा है।

ये भी पढ़ें : गाजियाबाद-कानपुर एक्सप्रेसवे : 380 KM लंबे ग्रीनफील्ड कॉरिडोर से इन 8 जिलों की बल्ले-बल्ले 

वेस्टर्न पेरिफेरल स्थित लूप से फरीदाबाद तक छह ग्रीन फील्ड कॉरिडोर है, जिसका लगभग काम पूरा हो चला है। उसके बाद फरीदाबाद से दिल्ली तक का अधिकांश हिस्सा एलिवेटेड है, जिसके पिलर तैयार हो चुके हैं। पिलरों के ऊपर चैनल (गॉर्डर) रखने का काम भी करीब 80 फीसदी तक पूरा हो गया है। सरिता विहार, फरीदाबाद में जिन सड़कों को कनेक्टर से जोड़ा जाना है, उनके लिए रैंप तैयार करने का काम भी करीब 70 फीसदी पूरा हो चला है।

30 किलोमीटर का कनेक्टर बनाया जा रहा

दूसरे चरण में जेवर से बल्लभगढ़ तक 30 किलोमीटर का अतिरिक्त कनेक्टर बन रहा है, जो वेस्टर्न पेरिफेरल स्थित लूप से दिल्ली के बीच बन रहे 60 किलोमीटर लंबे कनेक्टर से बीच में जुड़ेगा। टेंडर प्रक्रिया और तमाम विभागों की एनओसी मिलने में हुई देरी के बाद अब प्रोजेक्ट पर तेजी से काम हो रहा है।

कई जगह वाहनों का दबाव कम होने की उम्मीद

दिल्ली-मुंबई कनेक्टर को राजधानी में वाहनों का दबाव कम करने की दिशा में अहम माना जा रहा है। इसके खुलने पर प्रतिदिन दो से ढाई लाख पैसेंजर पर कार यूनिट (पीसीयू) का दबाव कम होगा। इससे दिल्ली-जयपुर, दिल्ली-आगरा नेशनल हाईवे पर भी वाहनों का दबाव कम होगा। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें