ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRरफ्तार पकड़ रहा कंस्ट्रक्शन, जेवर एयरपोर्ट पर अगले साल मार्च में फ्लाइट टेस्ट, दिसंबर 2024 तक होगा उद्घाटन

रफ्तार पकड़ रहा कंस्ट्रक्शन, जेवर एयरपोर्ट पर अगले साल मार्च में फ्लाइट टेस्ट, दिसंबर 2024 तक होगा उद्घाटन

नोएडा के जेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट कंस्ट्रक्शन का काम तेजी से चल रहा है। अगले साल के अंत तक इसके उद्घाटन से कुछ महीने पहले मार्च में फ्लाइट टेस्ट का संचालन किया जाएगा।

रफ्तार पकड़ रहा कंस्ट्रक्शन, जेवर एयरपोर्ट पर अगले साल मार्च में फ्लाइट टेस्ट, दिसंबर 2024 तक होगा उद्घाटन
Abhishek Mishraलाइव हिन्दुस्तान,नोएडाMon, 31 Jul 2023 11:23 AM
ऐप पर पढ़ें

एनसीआर के नोएडा में बन रहे जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर अगले साल के मार्च में पहली टेस्ट फ्लाइट उड़ान भरेगी। एयरपोर्ट अधिकारियों ने बताया कि कंस्ट्रक्शन का काम तेजी से चल रहा और और उम्मीद है कि टाइम से पहले पूरा हो जाएगा। 2024 के अंत तक इसके निर्धारित उद्घाटन से कुछ महीने पहले मार्च में ही टेस्ट फ्लाइट्स का संचालन होगा।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अधिकारियों ने नए हवाई अड्डे के रोडमैप पर चर्चा के लिए पिछले सप्ताह उत्तर प्रदेश सरकार के साथ मीटिंग की है।  इस एयरपोर्ट की शुरुआत से राष्ट्रीय राजधानी के हवाई अड्डे पर भीड़ कम होने और पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कुछ हिस्सों के लिए नए कनेक्टिविटी विकल्प उपलब्ध होने की उम्मीद है। 

एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, "हवाईअड्डे पर फिलहाल रनवे लेयरिंग का काम चल रहा है और दिसंबर से हवाई नेविगेशन टेक्नोलॉजी पर काम शुरू हो जाएगा। टेक ऑफ और लैंडिंग एरिया मार्च में तैयार हो जाएगा, जिसके बाद परीक्षण उड़ान संचालित की जा सकेगी।"

मीटिंग सुरक्षा संबंधी घटनाक्रम पर चर्चा के लिए आयोजित की गई थी। हालांकि औपचारिक आदेश जारी होना बाकी है। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) हवाई अड्डे की सुरक्षा करेगा। यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने सीआईएसएफ कर्मियों के आवास के लिए यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे 55,000 वर्ग मीटर जमीन को मंजूरी दे दी है।

बता दें, गौतमबुद्ध नगर जिले के जेवर में बन रहा इंटरनेशनल एयरपोर्ट साल 2024 के अंत तक पूरी तरह से चालू हो जाएगा। अभी इसमें एक टर्मिनल भवन और एक रनवे और प्रति वर्ष 12 मिलियन की यात्री प्रबंधन क्षमता होगी। एयरपोर्ट का विकास 4 फेज में किया जाएगा और उसके बाद हर साल तकरीबन 70 मिलियन लोगों के सफर करने का अनुमान है। 

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें