ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRसच होने वाली है CBI की भविष्यवाणी! कविता के बाद केजरीवाल होंगे अरेस्ट? एक्शन मोड में एजेंसी

सच होने वाली है CBI की भविष्यवाणी! कविता के बाद केजरीवाल होंगे अरेस्ट? एक्शन मोड में एजेंसी

दिल्ली के शराब घोटाले मामले में ईडी और सीबीआई एक्शन मोड में हैं। एजेंसी ने अपनी जांच की रफ्तार भी तेज कर दी है। माना जा रहा है कि के कविता के बाद सीबीआई केजरीवाल को गिरफ्तार कर सकती है।

सच होने वाली है CBI की भविष्यवाणी! कविता के बाद केजरीवाल होंगे अरेस्ट? एक्शन मोड में एजेंसी
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 12 Apr 2024 12:50 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली शराब घोटाले मामले में ईडी और सीबीआई एजेंसी फुल एक्शन मोड में है। ईडी के एक्शन के बाद सीबीआई भी बड़ी कार्रवाई करने को तैयार है। इसके संकेत भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) नेता के कविता की गिरफ्तारी से मिल गए हैं। अब ऐसी अटकलें हैं कि अब अगला नंबर दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल का हो सकता है। केजरीवाल को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 21 मार्च को गिरफ्तार किया था। इससे बमुश्किल एक हफ्ते पहले एजेंसी ने कविता को गिरफ्तार किया था।

पिछले महीने, पूर्व डिप्टी सीएम सिसोदिया की जमानत का विरोध करते हुए, सीबीआई ने एक अदालत को बताया था कि दिल्ली शराब घोटाला केस में कुछ 'हाई प्रोफाइल गिरफ्तारियां' होंगी। केजरीवाल को दिल्ली की एक अदालत ने अब वापस ली जा चुकी दिल्ली शराब नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 15 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। सीएम फिलहाल तिहाड़ में बंद हैं। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपनी गिरफ्तारी और रिमांड को चुनौती दी है। जिसपर 15 अप्रैल को सुनवाई होगी।

सीबीआई ने गुरुवार को कविता को दिल्ली शराब घोटाले से जुड़े भ्रष्टाचार केस में गिरफ्तार किया था। तेलंगाना के पूर्व मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव की बेटी कविता को ईडी ने 15 मार्च को हैदराबाद के बंजारा हिल्स स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया था। वे फिलहाल तिहाड़ की जेल नंबर 6 में न्यायिक हिरासत में हैं। उनकी रिमांड मांगने के लिए सीबीआई उन्हें राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया है। एजेंसी ने उनकी पांच दिन की रिमांड मांगी है।

46 साल की राजनेता पर 'साउथ ग्रुप' का एक मुख्य व्यक्ति होने का आरोप है। इस ग्रुप ने दिल्ली में शराब लाइसेंस का बड़ा हिस्सा लेने के बदले आम आदमी पार्टी को 100 करोड़ रुपए की रिश्वत दी थी। ग्रुप नीति को अपने पक्ष में करके दिल्ली के शराब बाजार में एंट्री करना चाहता था। कविता ने इन सभी आरोपों से इनकार किया है। उनका कहना है कि कथित शराब घोटाले का मकसद सिर्फ विपक्षी पार्टियों को टारगेट करना है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें