Monday, January 24, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRइरफान ने पत्नी को चुनाव लड़ाने को चोरी के पैसों से 7 गांवों में बनवाई थी सड़कें, दिल्ली में जज के घर से उड़ाए थे 65 लाख रुपये

इरफान ने पत्नी को चुनाव लड़ाने को चोरी के पैसों से 7 गांवों में बनवाई थी सड़कें, दिल्ली में जज के घर से उड़ाए थे 65 लाख रुपये

गाजियाबाद | सौरभ सिंहPraveen Sharma
Mon, 25 Oct 2021 11:29 AM
इरफान ने पत्नी को चुनाव लड़ाने को चोरी के पैसों से 7 गांवों में बनवाई थी सड़कें, दिल्ली में जज के घर से उड़ाए थे 65 लाख रुपये

गाजियाबाद के कवि नगर में बीते माह कारोबारी कपिल गर्ग के घर में हुई डेढ़ करोड़ रुपये की चोरी के मास्टर माइंड इरफान उर्फ उजाले के कारनामों को जानकर पुलिस भी हैरान है। वह करोड़ों रुपये कीमत की जैगुआर कार से देशभर में घूम-घमकर आलीशान कोठी-बंगलों में चोरी करने निकलता था। बिहार के सीतामढ़ी के रहने वाले इस चोर की तलाश 12 राज्यों की पुलिस कर रही थी।  

पुलिस अधीक्षक नगर (प्रथम) निपुण अग्रवाल ने बताया कि इरफान की पत्नी गुलशन परवीन जमानत पर रिहा होने के बाद बिहार में हो रहे जिला पंचायत के चुनाव में प्रत्याशी है। इस चुनाव के लिए सोमवार को ही मतदान होना है। इस चुनाव में पत्नी को जीत दिलाने के लिए इरफान ने दोनों हाथों से रुपया खर्च किया है। उसने एक करोड़ रुपये तो सात गांवों की गलियों में सड़क निर्माण पर ही खर्च कर दिए हैं। वहीं, अपने पड़ोस में रहने वाली एक गरीब लड़की के कैंसर के ऑपरेशन पर उसने 20 लाख रुपये खर्च किए थे। आरोपी ने बताया कि वह राजनीति में नहीं आना चाहता था, लेकिन गांव के लोगों ने ही उसे चुनाव में उतरने की सलाह दी और उसकी अनुपस्थिति में ग्रामीण ही चुनाव का सारा काम देख रहे हैं। 

जैगुआर से घूमकर कोठी-बंगलों में चोरी करने वाला शातिर चोर गिरफ्तार, 12 राज्यों की पुलिस को थी तलाश

एक बीबी और चार प्रेमिका हैं

आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि उसकी एक मात्र पत्नी गुलशन परवीन है और वह गांव में चुनाव लड़ रही है, जबकि चार प्रेमिका हैं। यह चारों आगरा, अलीगढ़, सवाई माधोपुर और मुंबई में रहती हैं। वारदात के बाद आरोपी अपनी इन प्रेमिकाओं के पास भी कुछ दिन ठहरता था और उनके ऊपर भी जमकर रुपये खर्च करता था।

जज के घर में की थी 65 लाख की चोरी

आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि नोटबंदी लागू होने से ठीक पहले उसने दिल्ली में रहने वाले एक जज के घर में 65 लाख की चोरी की थी। आरोपी ने बताया कि इसके अलावा उसने गोवा में गवर्नर हाउस के पास रहने वाले एक कारोबारी के घर में भी लाखों रुपये की नकदी और जेवर चोरी किए थे।

11 साल पहले शुरू की वारदात

पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह बहुत गरीब परिवार से है। 11 साल पहले उसकी बहन की शादी थी, लेकिन दहेज के लिए रुपयों की व्यवस्था नहीं हो पाने पर उसने बिहार में ही एक चोरी की वारदात को अंजाम दिया और शादी संपन्न होने के बाद से वह लगातार चोरी की वारदातों को अंजाम देता आ रहा है। उसने बताया कि वह बहुत पिछड़े इलाके में रहता है। वहां गांव या आसपास में कहीं से भी कोई उसके पास मदद मांगने आता है तो वह मना नहीं कर पाता। वह लोगों की मदद घरों में चोरी करने के बाद माल बेचकर करता है।

सितंबर महीने में गिरफ्तार हुए थे 11 आरोपी

कविनगर कोतवाल अब्दुल रहमान सिद्दीकी ने बताया कि इरफान ने गाजियाबाद में तीन सितंबर को कविनगर के डी ब्लॉक में रहने वाले कारोबारी कपिल गर्ग के घर में करीब डेढ़ करोड़ की चोरी को अंजाम दिया था। इस मामले में उसी समय पुलिस ने इरफान की पत्नी गुलशन परवीन और एक प्रेमिका समेत 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। वहीं, पुलिस ने इनकी जैगुआर और स्कार्पियो कार जब्त कर ली थी। उस समय इरफान फरार होने में सफल हो गया था। 

बिना रेकी के करता था वारदात

क्राइम ब्रांच के दारोगा सतबीर सिंह ने बताया कि इस चोर ने आज किसी भी वारदात से पहले रेकी नहीं की है। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह अपनी गाड़ी से निकलता था और जहां भी उसका दिल गवाही देता था, रुक कर वारदात को अंजाम देता था। उसका अंदाजा इतना सटीक था कि वह आज तक जिस घर में गया, एक डेढ़ लाख रुपये लेकर ही निकला है। आरोपी ने बताया कि वह इस तरह से कोठियों में घुसता था कि कड़ी चौकसी के बाद भी सुरक्षा कर्मियों की नजर उस पर नहीं पड़ती थी। यहां तक कि कुत्ते भी उसे देखकर नहीं भौंकते थे।

epaper

संबंधित खबरें