ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRद्वारका एक्सप्रेसवे को लेकर खुफिया विभाग ने गुरुग्राम प्राधिकरण को सौंपी 'सीक्रेट' रिपोर्ट, क्या है मामला

द्वारका एक्सप्रेसवे को लेकर खुफिया विभाग ने गुरुग्राम प्राधिकरण को सौंपी 'सीक्रेट' रिपोर्ट, क्या है मामला

इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट (Intelligence Department) ने द्वारका एक्सप्रेसवे (Dwarka Expressway) को लेकर गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) को एक 'सीक्रेट' रिपोर्ट भेजी है।

द्वारका एक्सप्रेसवे को लेकर खुफिया विभाग ने गुरुग्राम प्राधिकरण को सौंपी 'सीक्रेट' रिपोर्ट, क्या है मामला
Praveen Sharmaगुरुग्राम। हिन्दुस्तानMon, 24 Jun 2024 11:35 AM
ऐप पर पढ़ें

इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट (Intelligence Department) ने द्वारका एक्सप्रेसवे (Dwarka Expressway) को लेकर गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) को एक 'सीक्रेट' रिपोर्ट भेजी है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि द्वारका एक्सप्रेसवे पर गुरुग्राम के सेक्टर-88बी और सेक्टर-37डी के पास अवैध रूप से ग्रीन एरिया में दो रेस्तरां का संचालन किया जा रहा है। यह खुलासा इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट की शुरुआती जांच में हुआ है। 

इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट ने इस रिपोर्ट से जीएमडीए को अवगत कराकर आग्रह किया है कि वे अपने स्तर पर जमीन के मालिकाना हक की जानकारी जुटाने के बाद नियमानुसार विभागीय कार्रवाई अमल में लाएं। विभाग ने अपनी शुरुआती जांच में पाया है कि सेक्टर-88बी में गांव गढ़ी हरसरू की जमीन पर पेट्रोल पंप के पास ग्रीन एरिया में एक रेस्तरां चल रहा है। इस रेस्तरां संचालक की तरफ से किसी व्यक्ति को नौ हजार रुपये प्रतिमाह किराया दिया जा रहा है।

जयपुर निवासी चला रहा ये रेस्तरां राजस्थान के जयपुर का रहने वाला एक व्यक्ति चला रहा है। इसके अलावा पलवल निवासी एक व्यक्ति गांव गाड़ौली की जमीन पर एक रेस्तरां चला रहा है। इसकी एवज में 12 हजार रुपये प्रतिमाह किराया दिया जा रहा है। यह जमीन ग्रीन एरिया में आती है। इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट ने पत्र में कहा है कि यह केवल शुरुआती जांच है, जीएमडीए के अधिकारी अपने स्तर पर इन रेस्तरां की जांच करवाएं। यदि यह रेस्तरां अधिग्रहित ग्रीन एरिया में चल रहे हैं तो इन्हें हटवाकर उसकी रिपोर्ट इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट को दी जाए।

जीएमडीए की तरफ से किया जा रहा सर्वे

जीएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ए.श्रीनिवास ने ग्रीन एरिया को अतिक्रमणमुक्त कराने के लिए डीटीपीई आरएस बाठ को आदेश जारी किए हैं। उन्हें आदेश दिए गए हैं कि द्वारका एक्सप्रेसवे, गोल्फ कोर्स एक्सटेंशन रोड, गोल्फ कोर्स रोड, एसपीआर, पुराने दिल्ली रोड, शीतला माता रोड के अलावा शहर की मुख्य सड़कों पर ग्रीन एरिया में हुए अतिक्रमण का सर्वे किया जाए। डीटीपीई ने 70 प्रतिशत एरिया में सर्वे पूरा कर लिया है। अब तोड़फोड़ अभियान चलाने के लिए जिला उपायुक्त से ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त करवाने की प्रक्रिया चल रही है। इसके पूरा होने के बाद सप्ताह में पांच दिन ग्रीन एरिया में अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान इन अवैध रूप से चल रहे रेस्तरां पर भी कार्रवाई की जाएगी।

जीएमडीए के डीटीपीई आरएस बाठ ने कहा, ''जीएमडीए की अधिकांश मुख्य सड़क के ग्रीन एरिया का सर्वे कर लिया गया है। कई जगहों पर भारी अतिक्रमण होने के मामले सामने आए हैं। कुछ लोगों ने रेस्तरां, नर्सरी, ढाबे और रेहड़ियां लगाई हुई हैं। इन्हें जेसीबी से मलबे में मिलाया जाएगा। पुलिस बल की मौजूदगी में जल्द तोड़फोड़ अभियान चलाया जाएगा। ग्रीन एरिया को अतिक्रमणमुक्त करने के बाद इनमें पेड़-पौधे लगाए जाएंगे। शहर को हरा-भरा और सुंदर बनाया जाएगा। द्वारका एक्सप्रेसवे के इन दोनों रेस्तरां का कनिष्ठ अभियंता से निरीक्षण करवाया जाएगा। हरित क्षेत्र में यदि यह हैं तो इन्हें तोड़ा जाएगा।''