India s first Formula One track Buddh International Circuit sealed over dues by Yamuna Authority - बकाया नहीं चुकाने पर यमुना प्राधिकरण ने बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर जड़ा ताला DA Image
17 फरवरी, 2020|2:30|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बकाया नहीं चुकाने पर यमुना प्राधिकरण ने बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर जड़ा ताला

यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने भारत के पहले और एकमात्र फॉर्मूला वन ट्रैक बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट को सील कर जेपी ग्रुप को एक और बड़ा झटका दिया है।  

यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने भारत के पहले और एकमात्र फॉर्मूला वन ट्रैक बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट को सील कर जेपी ग्रुप को एक और बड़ा झटका दिया है।  

1000 हेक्टेयर की जेपी स्पोर्ट्स सिटी परियोजना का आवंटन रद्द करने के बाद अफसरों ने बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट और निर्माणाधीन क्रिकेट स्टेडियम को भी शुक्रवार को सील कर दिया। कंपनी पर प्राधिकरण का 1043 करोड़ रुपये बकाया है। जिसे वह जमा नहीं कर रही थी। प्राधिकरण ने आगे भी कार्रवाई जारी रखने की बात कही है।

प्राधिकरण के उपमहाप्रबंधक परियोजना एके सिंह की अगुवाई में टीम शुक्रवार को स्पोट्स सिटी पहुंची। टीम ने पहले बुद्ध इंटरेनशनल सर्किट को सील किया। इसके बाद आधे-अधूरे बने क्रिकेट स्टेडियम को सील कर दिया। यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि आवंटन रद्द करने के बाद सीलिंग की कार्रवाई की गई है। यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।

प्राधिकरण के अधिकारियों ने यह भी कहा कि प्राधिकरण ने अपनी बकाया राशि वसूलने के लिए संपत्ति की नीलामी के लिए एक ग्लोबल टेंडर जारी करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।

प्राधिकरण के परियोजना महाप्रबंधक केके सिंह ने कहा कि बकाया राशि नहीं चुकाने पर अधिकारियों की एक टीम ने मोटर रेसिंग सर्किट के कई गेटों को सील कर दिया है। हमने फॉर्मूला वन सर्किट को सील कर दिया है ताकि जेपी ग्रुप व्यावसायिक लाभ के लिए संपत्ति का उपयोग न करे। फॉर्मूला वन सर्किट के अंदर स्थित सभी परियोजनाएं अभी सील हैं। हालांकि, फार्मूला वन परिसर के अंदर रहने वाले सुरक्षा गार्ड और अन्य लोग संपत्ति की सुरक्षा के लिए अपने कर्तव्यों का पालन करते रहेंगे।

ज्ञात हो कि जेपी ग्रुप ने अक्टूबर 2011 में बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट (बीआईसी) का निर्माण किया था। हरमन टिलके द्वारा डिजानइन किए गए बीआईसी ने 2011 से 2013 तक भारतीय ग्रांड प्रिक्स की मेजबानी की। 2014 में एफ 1 कैलेंडर से इस स्थान को हटा दिया गया था। इसके साथ ही जेपी ने कई खेल सुविधाओं का विकास किया। 165 किमी यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे प्लॉट पर एक क्रिकेट स्टेडियम और एफ 1 रेस के लिए अन्य संबद्ध इमारतें शामिल हैं। यमुना एक्सप्रेसवे ग्रेटर नोएडा को आगरा से जोड़ता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:India s first Formula One track Buddh International Circuit sealed over dues by Yamuna Authority