ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRनाबालिगों ने चलाई गाड़ी तो माता-पिता पर होगा यह सख्त ऐक्शन, पुलिस का फरमान

नाबालिगों ने चलाई गाड़ी तो माता-पिता पर होगा यह सख्त ऐक्शन, पुलिस का फरमान

पुलिस ने कहा है कि नाबालिग द्वारा कोई भी वाहन चलाना गलत और गैरकानूनी दोनो है। किसी भी परिजन को अपने नाबालिग बच्चों को किसी भी सूरत में दो पहिया या चार पहिया वाहन चलाने की अनुमित नहीं देनी चाहिए।

नाबालिगों ने चलाई गाड़ी तो माता-पिता पर होगा यह सख्त ऐक्शन, पुलिस का फरमान
Nishant Nandanपीटीआई,नोएडाWed, 10 Jul 2024 03:57 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर में पुलिस ने नाबालिगों के द्वारा वाहन चलाए जाने पर कड़ा ऐक्शन लिए जाने का ऐलान किया है। आयुक्त कार्यालय की तरफ से आए फरमान में कहा गया है कि अगर नाबालिग बच्चे दो पहिया या चार पहिया वाहन चलाते हुए पकड़े गए तो मां-बाप पर कड़ा ऐक्शन लिया जाएगा। नोएडा पुलिस ने चेताया है कि अगर 18 साल कम उम्र के बच्चे मोटरसाइकिल या कार चलाते हुए सड़क पर पकड़े गए तो 25,000 रुपये से ज्यादा का जुर्माना भरना होगा। इसके अलावा अंडरएज ड्राइवर्स के माता-पिता पर भी जरुरी कानूनी ऐक्शन लिया जाएगा, 12 महीने के लिए वाहन का रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया जाएगा और नियम तोड़ने पर नाबालिग को 25 साल से पहले लाइसेंस भी नहीं दिया जाएगा। 

दिल्ली पुलिस ने यह ऐक्शन नोएडा, ग्रेटर नोएडा तथा देश के अन्य हिस्सों में नाबालिगों द्वारा चलाए जा रहे वाहनों से हो रही दुर्घटनाओं को देखते हुए लिया है। पुलिस का कहना है कि यह कदम सड़क सुरक्षा और ट्रैफिक नियमों का सख्ती से पालन करवाने के लिए उठाया गया है।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि नोएडा पुलिस इस बात पर जोर दे रही है कि नाबालिग द्वारा कोई भी वाहन चलाना गलत और गैरकानूनी दोनो है। किसी भी परिजन को अपने नाबालिग बच्चों को किसी भी सूरत में दो पहिया या चार पहिया वाहन चलाने की अनुमित नहीं देनी चाहिए। यह आदेश गौतमबुद्ध नगर कमिश्नरेट कार्यालय से आया है। कहा गया है कि ट्रैफिक पुलिस लोगों की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध है इसलिए वो उनसे आग्रह करती है कि किसी नाबालिग को वाहन चलाने की अनुमति ना दें। पुलिस ने कहा है कि 18 साल से कम उम्र के लड़कों को बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने पर सख्त मनाही है।

पुलिस ने कहा, 'परिजन और गार्जियन को चेताया जा रहा है कि वो अपने नाबालिग बच्चों को दो पहिया या चार पहिया वाहन चलाने के लिए ना दें। ट्रैफिक पुलिस लगातार जांच अभियान चला रही है। किसी तरह का उल्लंघन पाए जाने पर मोटर व्हीकल ऐक्ट की धारा 199A के तहत कार्रवाई की जाएगी।

इस बयान में कहा गया है कि अंडरएज ड्राइविग पर माता-पिता के खिलाफ भारतीय न्याय संहिता की धारा 125 के तहत कार्रवाई होगी। इसके अलावा 25,000 रुपया जुर्माना और 12 महीने तक वाहन का रजिस्ट्रेशन रद्द भी किया जा सकता है। पुलिस की तरफ से कहा गया है कि परिजन इस आदेश को मानें और जुर्माने से बचें।