ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRस्वाति मालीवाल ने जज के सामने बिभव कुमार पर क्या-क्या कहा, AAP पर भी बड़ा इल्जाम

स्वाति मालीवाल ने जज के सामने बिभव कुमार पर क्या-क्या कहा, AAP पर भी बड़ा इल्जाम

आम आदमी पार्टी (आप) की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने सोमवार को तीस हजारी कोर्ट में बिभव कुमार की जमानत याचिका का विरोध करते हुए कहा कि यदि आरोपी को बेल मिली तो वह खतरा बन जाएगा।

स्वाति मालीवाल ने जज के सामने बिभव कुमार पर क्या-क्या कहा, AAP पर भी बड़ा इल्जाम
Sudhir Jhaएएनआई,नई दिल्लीMon, 27 May 2024 01:55 PM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी (आप) की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने सोमवार को बिभव कुमार की जमानत याचिका का विरोध करते हुए कहा कि यदि आरोपी को बेल दी गई तो वह उनके लिए खतरा बन जाएगा। मुख्यमंत्री आवास में खुद को पीटे जाने का आरोप लगाने वालीं स्वाति ने तीस हजारी कोर्ट में सुनावी के दौरान आम आदमी पार्टी पर भी बड़ा आरोप लगाया और कहा कि उनके खिलाफ ट्रोल मशीनरी लगा दी गई है। दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि शिकायत देने के बाद पार्टी ने उन्हें बीजेपी का एजेंट बता डाला। उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि वह आरोपी को साथ लेकर घूम रहे हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के करीबी बिभव कुमार ने जमानत के लिए याचिका दायर की है। सोमवार को उनकी याचिका पर लंबी सुनवाई हुई। दोनों तरफ से वकीलों ने कई दलीलें रखीं तो खुद स्वाति मालीवाल ने भी कोर्ट की इजाजत से अपनी बात रखी। स्वाति ने जज के सामने बिभव कुमार पर खुद को पीटने का आरोप दोहराते हुए आम आदमी पार्टी को भी कटघरे में खड़ा किया।  

स्वाति मालीवाल ने कहा, 'जब मैंने अपना बयान दर्ज (पुलिस को शिकायत) कराया तो आम आदमी पार्टी के नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। मुझे बीजेपी का एजेंट बताया गया। उनके पास एक बड़ी ट्रोल मशीनरी है। उन्होंने इसमें हवा भर दी है। आरोपी को पार्टी के नेता मुंबई ले गए। यदि आरोपी बेल मिल जाती है तो वह मेरे और मेरे परिवार के लिए खतरा बन जाएगा। वह साधारण आदमी नहीं है। उसे मंत्रियों वाली सुविधाएं मिली हैं।' 

कोर्ट में रो पड़ीं स्वाति मालीवाल
इससे पहले बिभव कुमार का पक्ष रखते हुए वरिष्ठ वकील एन हरिहरण ने कहा कि स्वाति मालीवाल के दावों पर कई सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि स्वाति मालीवाल बिना अपॉइंटमेंट के सीएम आवास पहुंचीं थीं। उन्होंने सवाल उठाया कि क्यों शिकायत दर्ज कराने में उन्होंने देरी की। बिभव के वकील ने कहा कि अहम अंगों पर चोट के गंभीर निशान नहीं है और चोट खुद को भी पहुंचाई जा सकती है। जिस समय बिभव के वकील कोर्ट के सामने दलीलें पेश कर रहे थे, कोर्टरूम में मौजूद स्वाति मालीवाल रोने लगीं।