ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRछत के दरवाजे का ताला, धुएं में कैद हो गया परिवार; गाजियाबाद में यूं गई 5 की जान

छत के दरवाजे का ताला, धुएं में कैद हो गया परिवार; गाजियाबाद में यूं गई 5 की जान

लोनी बॉर्डर थाने के बेहटा हाजीपुर गांव में तीन मंजिला मकान में लगी आग में परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई। आग लगने के बाद परिवार के सभी लोग छत की ओर भागे थे। लेकिन दरवाजे पर ताला बंद था।

छत के दरवाजे का ताला, धुएं में कैद हो गया परिवार; गाजियाबाद में यूं गई 5 की जान
Sudhir Jhaहिन्दुस्तान,गाजियाबादThu, 13 Jun 2024 09:13 AM
ऐप पर पढ़ें

लोनी बॉर्डर थाने के बेहटा हाजीपुर गांव में तीन मंजिला मकान में लगी आग में परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई। आग लगने के बाद परिवार के सभी लोग छत की ओर भागे थे, लेकिन सीढ़ियों के दरवाजे में ताला लगा था। इस कारण धुआं अंदर भर गया और दम घुटने से सभी लोगों की मौत हो गई। लोगों का कहना है कि ताला खुला होता तो जान बच सकती थी।

शाम सवा आठ बजे मकान के निचले तल में आग लगी। पहले तो परिवार के लोग खुद ही बुझाने का प्रयास करते रहे। इसी दौरान वहां खड़ी कार भी आग की चपेट में आ गई। परिवार के जो लोग ऊपरी मंजिल पर थे, वह वहीं फंसे रहे। वहीं, नीचे से धुआं ऊपर जाता रहा। नीचले मंजिल पर आग होने के कारण परिवार के सभी लोग तीसरी मंजिल से ऊपर छत पर जाने के लिए मुमटी तक पहुंच गए थे, लेकिन वहां ताला लगा था। चाभी भी नीचे की मंजिल पर ही थी। जब तक चाबी की खोजने का प्रयास किया गया, तब तक आग तीसरी मंजिल तक पहुंच चुकी थी। फोम जलने के बाद जहरीला धुआं मुमटी में जमा था, इस कारण परिवार का कोई भी व्यक्ति सांस नहीं ले सका।

इश्तियाक गया था मस्जिद
बताया जा रहा है कि जिस समय घटना हुई, उस समय इश्तियाक अली मस्जिद गया था। उसके दोनों बेटे सारिक और शाकिब किसी काम से बाहर गए हुए हैं। बताया जा रहा है कि घर के भीतर उनकी पत्नी, पुत्रवधू, बेटी, दामाद और दो पौत्र के साथ कई अन्य लोग भी थे। आग लगने के बाद कुछ तो बाहर निकल आए, कुछ फंसे रह गए थे।

इनकी हुई मौत
घटना में सारिक की 28 वर्षी पत्नी फहरीन, उसका सात माह का बेटा शीश, सारिक की 30 वर्षीय बहन नाजरा, नाजरा की आठ वर्षीय बेटी इफरा और नाजरा के पति सैफुल रहमान की मौत हुई है। सारिक की 22 वर्षीय बहन उजमा को झुलसी अवस्था में अस्पताल भेजा गया है।

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त दिनेश कुमार पी ने बताया कि घटना के बाद अग्निशमन की टीम और पुलिस ने मिलकर आग पर काबू पाया। एक युवती को झुलसी हालत में बचा लिया गया है। उसे अस्पताल भेज दिया गया है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।  

हाल में आग से हुईं मौत की घटनाएं
● 22 अप्रैल 2024: थाना टीला मोड़ इलाके में घर में लगी आग से पति-पत्नी की मौत
● 14 अप्रैल 2024 : टीला मोड़ थाने में एक फ्लैट में आग लगने से वृद्धा की मौत
● 12 जून 2023: लोनी इलाके में एक टेंट गोदाम में आग लगने से दो महिलाओं की जलकर मौत
● 12 अप्रैल 2022 : राज नगर एक्सटेंशन की रिवर हाइट सोसाइटी में फ्लैट में आग लगने से 2 साल की बच्ची की मौत

राजनगर की घटना याद आई
इस घटना से वर्ष 2016 में राजनगर में हुई ऐसी ही घटना की याद ताजा हो गई। इस घटना में भी राजनगर सेक्टर-14 पॉश कालोनी में एक तीन मंजिला बिल्डिंग में आग लग गई। यहां एक कोरियर कंपनी की ऑफिस था। आग लगने के बाद नीचले हिस्से में धुआं भर गया था। लोग अपनी जान बचाने के लिए छत की ओर भागे थे, लेकिन छत की मुमटी में ताला लगा हुआ था। इस के कारण कोई भी बाहर नहीं निकल सका था। सूचना पर जिलाधिकारी इंद्रविक्रम सिंह, एडिशनल कमिश्नर, डीसीपी ग्रामीण मुआयना करने पहुंचे।