अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जैन मुनि तरुण सागर की अंतिम यात्रा में उमड़ी भारी भीड़, लोग नम आंखों से दे रहे विदाई

जीटी रोड से गुजरती जैन मुनि तरुण सागर जी की अंतिम यात्रा

काफी बीमार चल रहे 51 वर्षीय जैन मुनि तरुण सागर महाराज का शनिवार सुबह दिल्ली के जैन मंदिर में निधन हो गया। जैन मुनि का अंतिम संस्कार उत्तर प्रदेश के मोदीनगर में तरुण सागर धाम में किया जाएगा। 

जानकारी के मुताबिक, वह लंबे समय से बीमार थे इसके चलते उन्हें वैशाली के एक अस्पताल में भर्ती भी कराया गया था। हालांकि, कुछ दिन पहले उन्होंने कृष्णा नगर के राधापुरी मंदिर आने का फैसला किया था जहां शनिवार सुबह करीब 3:18 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली।

51 साल की उम्र में जैन मुनि तरुण सागर महाराज का दिल्ली में निधन

तरुण सागर महाराज के निधन की खबर फैलते ही उनके अंतिम दर्शन के लिए राधापुरी मंदिर में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी।

जैन मुनि तरुण सागर जी महाराज का अंतिम संस्कार शनिवार दोपहर 3:00 बजे मुरादनगर के सैंथली गांव में होगा। सैंथली में तरुण सागर तीर्थ स्थल का निर्माण चल रहा है। इस निर्माणाधीन तीर्थ स्थल में ही महाराज की समाधि स्थल बनेगा। 

शनिवार दोपहर को निकाली गई जैन मुनि तरुण सागर जी की अंतिम यात्रा में हजारों लोगों ने शामिल होकर नम आंखों से उन्हें अंतिम विदाई दी। जहां-जहां से उनकी अंतिम यात्रा निकली वहां लंबा जाम लग गया। यात्रा के साथ पैजल चल रहे हजारों की संख्या में लोग रोते-बिलखते दिखाई दिए।


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Heavy Crowd gathered in Jain muni Tarun Sagar Maharaj last Journey