ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल की बुरी तरह पिटाई, बाइक का कागज मांगने पर चार लोगों ने पीटा

दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल की बुरी तरह पिटाई, बाइक का कागज मांगने पर चार लोगों ने पीटा

शुक्रवार को हौज खास थाने में साउथ एक्टेंशन पार्ट 2 में एक झगडे़ की पीसीआर कॉल पुलिस को मिली थी। शिकायत पर मौके पर पहुंची पुलिस को पता चला कि घायल को पहले ही एम्स ट्रामा सेंटर से जाया जा चुका है।

दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल की बुरी तरह पिटाई, बाइक का कागज मांगने पर चार लोगों ने पीटा
Swati Kumariहिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 29 Dec 2023 11:20 PM
ऐप पर पढ़ें

दक्षिणी दिल्ली के साउथ एक्सटेंशन इलाके में नव वर्ष के मद्देनजर विशेष ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी को मारपीट कर घायल करने का मामला सामने आया है। पुलिसकर्मी के साथ ये मारपीट पुलिस बूथ में ही की गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है और एक आरोपी छायांक को पकड़ लिया है।

पुलिस उपायुक्त चंदन चौधरी ने बताया कि शुक्रवार को हौज खास थाने में साउथ एक्टेंशन पार्ट 2 में एक झगडे़ की पीसीआर कॉल पुलिस को मिली थी। शिकायत पर मौके पर पहुंची पुलिस को पता चला कि घायल को पहले ही एम्स ट्रामा सेंटर से जाया जा चुका है। इस दौरान कॉलर भी मौके पर पुलिस को नहीं मिला और उनका मोबाइल नंबर भी पहुंच से बाहर आ रहा था। स्था

नीय लोगों से पूछताछ में पता चला कि हेड कांस्टेबल कुलदीप और हेड कांस्टेबल मुकेश नव वर्ष की तैयारियों को लेकर सिविल ड्रेस में बाजार में विशेष ड्यूटी पर थे। इस दौरान एक बिना हेलमेट पहना बाइकसवार उन्हें बड़ी ही लापरवाही से बाजार में बाइक चलाता दिखाई दिया। बाइक में साइलेंसर में संशोधन किया गया था। इससे बाइक से तेज आवाज आ रही थी। दोनों पुलिस कर्मचारियों ने उन्हें रोका और अपना दिल्ली पुलिस का पहचान पत्र दिखाने के बाद बाइकसवार से संबंधित कागजात दिखाने को कहा। इस पर आरोपी ने कागजात दिखाने से मना कर दिया। इसके बाद पुलिस आरोपी को साउथ एक्सटेंशन पार्ट 2 पुलिस बूथ ले गई। बाइकसवार की पहचान ईस्ट किदवई नगर निवासी छायांक उर्फ एडी के रूप में हुई। छायांक ने अपने भाई तनिष्क कुमार उर्फ टुकटुक को बुला लिया। इसके बाद पुलिस बूथ में उनका भाई तनिष्क कुमार, पिता अनिल कुमार और चचेरा भाई बादल चौधरी आ गए और पुलिसकर्मियों पर चिल्लाने व धमकी देने लगे। उन्होंने धमकाते हुए कहा कि उनके तमाम मंत्रालयों में संबंध हैं और पुलिसकर्मियों को इसका दुष्परिणाम भुगतने को कहा। 

इस पर पुलिस ने बाइक के कागजात दिखाने को कहा तो आरोपी हेड कांस्टेबल कुलदीप को पुलिस बूथ से बाहर ले जाकर मुक्कों व लातों से मारने पीटने लगे। हेड कांस्टेबल कुलदीप के चेहरे पर काफी चोटें आईं और खून बहने लगा। इसके बाद वह स्थानीय लोगों की मदद से किसी तरह से बचकर बाहर निकले। इसके बाद तीनों अन्य आरोपी मौके से फरार हो गए और आरोपी छायांक को हेड कांस्टेबल मुकेश ने स्थानीय लोगों की मदद से पकड़े रखा। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें