DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

HBSE 12th Result 2019 : परिणाम सुधरने के बावजूद गुरुग्राम 18वें स्थान पर

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने बुधवार को 12वीं की परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। इस बार गुरुग्राम जिले के परिणाम में काफी सुधार हुआ है। बावजूद इसके राज्य में जिलावार रैंकिंग के हिसाब से गुरुग्राम को 18वां स्थान मिला है। इस बार गुरुग्राम जिले का पास प्रतिशत 70 फीसदी रहा है। जबकि पिछले साल की परीक्षा में गुरुग्राम का परिणाम 55 फीसदी रहा था। वहीं जिले की रैंकिंग पिछले साल भी 18वीं थी। इस बार जिले की रैंकिंग में तो सुधार नहीं हुआ है, लेकिन परीक्षा परिणाम 55 से बढ़ कर 70 फीसदी हो गया है।

HBSE 12th Result 2019: लड़कियों ने लड़कों को बुरी तरह पछाड़ा

जानकारी के अनुसार, हरियाणा विद्यालय विद्यालय शिक्षा बोर्ड की मार्च-2019 में संचालित सीनियर सैकेंडरी (शैक्षिक) परीक्षा का परिणाम 74.48 फीसदी रहा है तथा स्वयंपाठी परीक्षार्थियों का परिणाम 57.61 फीसदी रहा है। शिक्षा स्तर को सुदृढ़ एवं पारदर्शिता के दृष्टिगत बोर्ड द्वारा प्रमाण-पत्र व रिजल्ट डिजीटल लॉकर में रखा गया है, जिससे परीक्षार्थियों को अगली कक्षा में प्रवेश लेने में परेशानी नहीं होगी।

लड़कियां फिर लड़कों से आगे

इस परीक्षा परिणाम की घोषणा बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह एवं बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद, एचसीएस ने संयुक्त रूप से बुधवार को भिवानी बोर्ड मुख्यालय पर आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित करते हुए की। उन्होंने बताया कि शैक्षिक परीक्षा में 82.48 प्रतिशत कामयाब लड़कियों की तुलना में 68.01 प्रतिशत ही लडक़े सफलता प्राप्त कर सके हैं। इस प्रकार लड़कियों ने लड़कों से 14.47 फीसदी ज्यादा पास प्रतिशतता देकर बढ़त हासिल की है। 

ऐसे देखें अपना रिजल्ट

डॉ. सिंह ने बताया कि परीक्षार्थी अपने परीक्षा परिणाम आज 15 मई को सायं 3.00 बजे बोर्ड की वेबसाइट www.bseh.org.in एवं www.indiaresults.com पर देख सकते हैं। उन्होंने आगे बताया कि यह परिणाम बोर्ड द्वारा तैयार करवाई गई मोबाईल एप पर भी देखा जा सकता है। इस मोबाइल ऐप को गूगल प्ले स्टोर में जाने के बाद “Education Board Bhiwani Haryana” सर्च करते हुए डाऊनलोड किया जा सकता है। 

इन्होंने किया है टॉप

बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि इस परीक्षा में विज्ञान संकाय में प्रथम स्थान पर दीपक, रावमावि बवानीखेड़ा (भिवानी) ने 497 अंक अर्जित करके प्राप्त किया है। द्वितीय स्थान पर मुस्कान भारद्वाज, एसडी वमावि छप्पार (झज्जर) ने 492 अंक अर्जित करके पाया है तथा तृतीय स्थान पर गिफ्टी, जीवन ज्योति वमावि मंढौला (रेवाड़ी) ने 490 अंक लेकर हासिल किया है। उन्होंने बताया कि वाणिज्य संकाय में प्रथम स्थान पलक, पीजीएसडी वमावि, हिसार ने 494 अंक प्राप्त करके हासिल किया है। तमन्ना गुप्ता, आरोही मॉडल वमावि कनहेड़ी (फतेहाबाद) ने 493 अंक प्राप्त करके द्वितीय स्थान हासिल किया है। तृतीय स्थान पर मोनिका, पीजीएसडी वमावि, हिसार ने 491 अंक अर्जित कर हासिल किया है तथा कला संकाय में शिव कुमार, जीवन ज्योति पब्लिक वमावि, पलवल व शिवानी वत्स, एसडी मैमोरियल वमावि मोहना (फरीदाबाद) ने 500 में से 494 अंक अर्जित करके प्रथम स्थान प्राप्त किया है। द्वितीय स्थान पर मांसी,  एसडी मैमोरियल वमावि मोहना (फरीदाबाद) जिसने 492 अंक प्राप्त किया तथा तृतीय स्थान गीता, कन्या गुरूकुल वमावि, खरल (जींद) ने 491 अंक अर्जित कर हासिल किया है।

29,688 परीक्षार्थियों की कम्पार्टमेंट 

अध्यक्ष ने बताया कि सीनियर सेकेंडरी (शैक्षिक) परीक्षा में 1,91,527 परीक्षार्थी शामिल हुए थे, जिनमें से 1,42,640 उत्तीर्ण हुए एवं 29,688 परीक्षार्थियों की कम्पार्टमेंट आई है तथा 19,199 परीक्षार्थी अनुत्तीर्ण रहे हैं। इस परीक्षा में 1,05,947 छात्र बैठे थे, जिनमें 72,056 पास हुए तथा 85,580 प्रविष्ठ छात्राओं में से 70,584 पास हुई। डॉ. सिंह ने आगे बताया कि इस परीक्षा में राजकीय विद्यालयों की पास प्रतिशतता 76.39 रही तथा प्राइवेट विद्यालयों की पास प्रतिशतता 72.61 रही है। इस परीक्षा में ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 75.74 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 71.83 रही है। उन्होंने बताया कि सीनियर सेकेंडरी परीक्षा के स्वयंपाठी परीक्षार्थियों का परिणाम 57.61 प्रतिशत रहा है। इस परीक्षा में 19,144 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए जिनमें से 11,028 पास हुए।

रिजल्ट देखने के लिए की गई खास व्यवस्था

बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद, एचसीएस ने बताया कि यह परिणाम आज 15 मई को सायं 4.00 बजे से संबंधित विद्यालयों/संस्थाओं द्वारा बोर्ड की वेबसाइट पर जाकर अपनी यूजर आईडी व पासवर्ड द्वारा लॉगिन करते हुए डाऊनलोड भी किया जा सकेगा। कोई विद्यालय अगर समय पर परिणाम प्राप्त नहीं करता है तो इसके लिए वह स्वयं जिम्मेवार होगा। उन्होंने आगे बताया कि इंटरनेट व हेल्पलाइन तथा मोबाइल ऐप इत्यादि की सुविधा परीक्षार्थियों को परीक्षाफल तुरंत उपलब्ध करवाने के लिए दी जा रही है, इसमें किसी भी प्रकार की तकनीकी खराबी/त्रुटि के लिए बोर्ड कार्यालय जिम्मेवार नहीं होगा। उन्होंने बताया कि स्वयंपाठी परीक्षार्थियों के साथ-साथ विद्यालयी परीक्षार्थियों का परिणाम अनुक्रमांक के आधार पर लिया जा सकता है। विद्यालयों द्वारा अपने परीक्षार्थियों का परिणाम यूजर आईडी व पासवर्ड द्वारा लॉगिन करते हुए डाउनलोड भी किया जा सकता है।

उत्तर पुस्तिकाओं की करा सकते हैं पुन: जांच

राजीव प्रसाद ने बताया कि इन परीक्षा परिणामों के आधार पर जो परीक्षार्थी अपनी उत्तर पुस्तिकाओं की पुन: जांच अथवा पुनर्मूल्यांकन करवाना चाहते हैं तो वे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। पुन: जांच/पुनर्मूल्यांकन निर्धारित शुल्क सहित परिणाम घोषित होने की तिथि से 20 दिन तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। 
बोर्ड सचिव ने बताया कि इस परीक्षा के परिणाम के आधार पर आगामी पूरक परीक्षा जुलाई-2019 के लिए स्वयंपाठी (प्राईवेट) छात्रों हेतु ऑनलाइन आवेदन करने के लिए 700/- रुपये सामान्य शुल्क के साथ पंजीकरण की अंतिम तिथि 25 मई, 2019 से 13 जून, 2019 निर्धारित की गई है। उन्होंने आगे बताया कि विलम्ब शुल्क 100/- रुपये के साथ पंजीकरण तिथि 14 जून, 2019 से 18 जून, 2019 रहेगी। इसी प्रकार 300/- रुपये विलम्ब शुल्क सहित पंजीकरण तिथियाँ 19 जून, 2019 से 23 जून, 2019 तथा 1000/- रुपये विलम्ब शुल्क सहित पंजीकरण तिथियाँ 24 जून, 2019 से 28 जून, 2019 निर्धारित की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:HBSE 12th Result 2019: Despite improving results Gurugram ranked 18th