ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR'ड्रामेबाजी कर रही दिल्ली सरकार', पानी नहीं छोड़ने के आरोपों पर हरियाणा के मंत्री का पलटवार

'ड्रामेबाजी कर रही दिल्ली सरकार', पानी नहीं छोड़ने के आरोपों पर हरियाणा के मंत्री का पलटवार

मंत्री अभय यादव ने गुरुवार को दिल्ली स्थित हरियाणा भवन में पत्रकारों को आकंड़ो के साथ हरियाणा द्वारा दिल्ली को की जा रही जलापूर्ति की जानकारी दी। इस अवसर पर सिंचाई विभाग के अधिकारी भी उपस्थित थे।

'ड्रामेबाजी कर रही दिल्ली सरकार', पानी नहीं छोड़ने के आरोपों पर हरियाणा के मंत्री का पलटवार
Sourabh Jainवार्ता,नई दिल्लीThu, 20 Jun 2024 10:25 PM
ऐप पर पढ़ें

हरियाणा के सिंचाई एवं जल संसाधान राज्य मंत्री डॉ अभय सिंह यादव ने गुरुवार को जल संकट को लेकर दिल्ली सरकार के आरोपों को खारिज करते हुए स्पष्ट किया है कि हरियाणा दिल्ली को उसके हिस्से का पूरा पानी दे रहा है। यादव ने कहा कि दिल्ली में पानी की किल्लत केवल दिल्ली की आंतरिक खराब व्यवस्था के कारण है। 

यादव के मुताबिक हरियाणा पानी पर राजनीति नहीं करता क्योंकि हम पानी को आवश्यकता के रूप में देखते हैं। राष्ट्रीय राजधानी को पानी मिले यह सबकी जिम्मेदारी है और हम दिल्ली को पानी देने में कोई कमी नहीं कर रहे हैं। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि हरियाणा निर्धारित 719 क्यूसेक पानी के मुकाबले कहीं ज्यादा 1050 क्यूसेक पानी दिल्ली को दे रहा है।

अभय यादव ने गुरुवार को दिल्ली स्थित हरियाणा भवन में पत्रकारों को आकंड़ो के साथ हरियाणा द्वारा दिल्ली को की जा रही जलापूर्ति की जानकारी दी। इस अवसर पर सिंचाई विभाग के अधिकारी भी उपस्थित थे।

सिंचाई राज्य मंत्री ने कहा कि पानी को लेकर दिल्ली सरकार राजनीतिक ड्रामेबाजी कर रही है। समय-समय पर अलग-अलग एजेंसियों की ओर से बार-बार आंकड़े दिए गए हैं। हरियाणा द्वारा दिया गया डाटा सही पाया गया है। एक भी एजेंसी यह नहीं कह सकती कि हरियाणा ने पानी कम दिया है। दिल्ली सरकार अपने कुप्रबंधन को ठीक करने की बजाय बार-बार हरियाणा पर आरोप लगा रही है। हरियाणा नियमित रूप से दिल्ली को पानी की पूर्ण अधिकृत हिस्सेदारी की आपूर्ति कर रहा है।

उन्होंने बताया कि दिल्ली द्वारा 13 जून को सुप्रीम कोर्ट के समक्ष दायर याचिका का उत्तर देते हुए हरियाणा सरकार ने 23 मई से 12 जून तक की अवधि के लिए दिल्ली संपर्क बिंदु, बवाना पर आपूर्ति किए गए पानी का डेटा प्रस्तुत किया है। जिसमें बताया गया कि हरियाणा मुनक हेड पर दिल्ली के लिए 1050 क्यूसेक पानी लगातार छोड़ रहा है और दिल्ली संपर्क बिंदु बवाना प्वाइंट पर UYRB द्वारा तय 924 क्यूसेक से अधिक पानी दिया जा रहा है।
 
इससे पहले दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार दिल्ली में पानी की कमी के लिए हरियाणा सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए उस पर गंदी राजनीति करने का आरोप लगाती आई है। शुक्रवार से अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ रहीं दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने भी अपने अनशन को तब तक जारी रखने की बात कही है जब तक कि दिल्ली को हरियाणा से उसके हिस्से का पानी नहीं मिल जाता।