DA Image
29 मई, 2020|11:59|IST

अगली स्टोरी

प्राइवेट स्कूलों को बड़ी राहत, अभिभावकों को जमा करवानी होगी अप्रैल-मई माह की स्कूल फीस

students

लॉकडाउन के बीच हरियाणा शिक्षा विभाग ने निजी स्कूलों को अभिभावकों से अप्रैल और मई माह की फीस आगामी तीन महीनों में बराबर किश्तों में तथा जून माह से नियमित रूप से हर महीने लेने के निर्देश दिए हैं। शिक्षा विभाग की ओर से सभी जिला शिक्षा अधिकारियों व जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र जारी कर उक्त आदेश से अवगत कर दिया गया है।

सर्व हरियाणा प्राइवेट स्कूल संघ ने विभाग के इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि इससे अभिभावकों के बीच बनी संशय की स्थिति स्पष्ट होगी, जिससे आर्थिक तंगी से जूझ रहे प्राइवेट स्कूलों को भी राहत मिलेगी। 

सर्व हरियाणा प्राइवेट स्कूल संघ के प्रेस प्रवक्ता मनोज पूनिया ने शनिवार को बताया कि कोविड-19 के मद्देनजर शिक्षा विभाग ने प्राइवेट स्कूलों को फीस संबंधी निर्देश जारी किए थे, जिसमें उन्हें मासिक फीस तीन महीने की बजाय प्रति माह लेने व अन्य फंड आगामी कुछ समय के लिए स्थगित करने के आदेश थे, लेकिन विभाग की ओर से बार-बार निर्देश दिए जाने के चलते अभिभावकों में भ्रांति की स्थिति बन गई थी।

उन्होंने बताया कि पिछले दो माह से अधिकांश अभिभावकों ने अपने बच्चों की फीस जमा नहीं करवाई है, जबकि स्कूल संचालक निरंतर ऑनलाइन तरीके से पढ़ाई करवा रहे हैं। उन्होंने बताया कि फीस जमा न होने के कारण स्कूल संचालकों को पिछले दो महीने से स्कूल के स्टाफ का वेतन देने के भी लाले पड़े हुए थे। अब विभाग ने जिला शिक्षा अधिकारियों की मार्फत स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि अप्रैल व मई माह की फीस आगामी तीन महीनों में बराबर किश्तों में तथा जून माह से नियमित रूप से फीस जमा करवाई जाए। इससे स्कूल संचालक अपने स्टाफ सदस्यों को वेतन दे सकेंगे।

उन्होंने अभिभावकों का भी आह्वान किया कि वे नियमित रूप से बच्चों की फीस जमा करवाएं ताकि उनकी पढ़ाई निरंतर जारी रहे।  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Harayana Private schools gets big relief parents will have to pay lockdown period school fees