ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRGurugram Weather : गर्मी की मार और पानी के लिए हाहाकार, गुरुग्राम में गर्मी ने तोड़ा नौ साल का रिकॉर्ड; 3 दिन के लिए रेड अलर्ट

Gurugram Weather : गर्मी की मार और पानी के लिए हाहाकार, गुरुग्राम में गर्मी ने तोड़ा नौ साल का रिकॉर्ड; 3 दिन के लिए रेड अलर्ट

गुरुग्राम में गर्मी ने रविवार को गर्मी ने नौ साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। 2015 में 26 मई को शहर का पारा 45.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा था, लेकिन रविवार को पारा 45.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।

Gurugram Weather : गर्मी की मार और पानी के लिए हाहाकार, गुरुग्राम में गर्मी ने तोड़ा नौ साल का रिकॉर्ड; 3 दिन के लिए रेड अलर्ट
Praveen Sharmaगुरुग्राम। हिन्दुस्तानMon, 27 May 2024 08:08 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली से सटे गुरुग्राम में भीषण गर्मी ने लोगों को बेहाल कर दिया है। रविवार को गर्मी ने नौ साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। 2015 में 26 मई को शहर का पारा 45.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा था, लेकिन रविवार को पारा 45.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। रिकॉर्ड तोड़ गर्मी के कारण लोगों को तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सुबह से ही चल रही गर्म हवाएं लोगों को घरों में कैद रहने मजबूर कर रही है। वीकेंड पर भी लोग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। वीकेंड के दौरान भी शहर की सड़कें सुनसान नजर आ रही है। शहर अधिकतम तापमान 45.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है, जो सामान्य से 5.4 डिग्री सेल्सियस ज्यादा रहा। वहीं न्यूनतम तापमान में हल्की गिरावट दर्ज की गई है। रविवार को न्यूनतम तापमान 27.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जोकि सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस ज्यादा रहा। सबसे ज्यादा परेशानी दिहाड़ी-मजदूरी करने वाले लोगों के साथ सड़कों पर खड़े होकर रेहड़ी-पटरी लगाने वाले लोगों को हो रही है।

भीषण लू की चपेट में दिल्ली, पारा 45 पार; अगले 4 दिन होंगे और भारी

3 दिन गर्म हवाओं का रेड अलर्ट

मौसम विभाग ने अगले तीन दिन तक तापमान में और भी बढ़ोतरी होने का अनुमान जताया है। मौसम विभाग ने अगले तीन दिन के लिए लू और गर्म हवाएं चलने को लेकर रेड अलर्ट जारी किया है। इस दौरान लोगों को घरों में रहने की हिदायत भी दी है। जिला प्रशासन ने लोगों को जरूरी होने पर ही घरों से बाहर निकलने की सलाह दी है।

भीषण गर्मी के बीच छह इलाकों में पेयजल संकट से जूझे लोग

वहीं, गुरुग्राम के लोगों को भीषण गर्मी के साथ ही पानी की किल्लत का भी सामना करना पड़ रहा है। रविवार को शहर के छह से ज्यादा इलाकों में पानी की आपूर्ति नहीं हो सकी। करीब एक लाख लोगों को महंगे दामों में पानी के टैंकर खरीदने को मजबूर होना पड़ा। सबसे ज्यादा परेशानी सेक्टर-21, आरडी सिटी, ग्रीनवुड सिटी, सेक्टर-57 और सेक्टर-4 के लोगों को हो रही है। नगर निगम के दायरे में करीब 110 बूस्टिंग स्टेशन है। इनमें से 44 बूस्टिंग स्टेशन अभी तक शुरू नहीं हो पाए हैं। जो बूस्टिंग स्टेशन चल रहे हैं उनमें से करीब 40 फीसदी का संचालन निगम ने निजी एजेंसियों को सौंपा हुआ है।

निजी एजेंसियों द्वारा जिन बूस्टिंग स्टेशन का संचालन किया जा रहा है उन पर कहीं मोटर खराबी तो कहीं पर पंप ऑपरेटर मौजूद नहीं है। अधिकारियों की इस लापरवाही के कारण लोगों को पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। सेक्टर-21 क्षेत्र में लोग बीते 20 दिन से पानी की किल्लत झेल रहे हैं। आरडब्ल्यूए के प्रधान प्रकाश लांबा ने बताया कि सेक्टर में 130 के प्रेशर से पहले पानी आता था, लेकिन अब सेक्टर में लगे फ्लो मीटर के अनुसार 70 के प्रेशर से ही पानी आ रहा है। कम प्रेशर होने के कारण आधे सेक्टर में लोगों के घरों तक पानी की आपूर्ति तक नहीं हो पाती है। इस कारण लोगों को महंगे दामों में टैंकर खरीद कर काम चलाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि इसको लेकर उन्होंने जीएमडीए और नगर निगम अधिकारियों को कई दफा शिकायत की है, मगर समस्या का कोई समाधान नहीं हो पाया है।

निगम टैंकरों से पानी की आपूर्ति करेगा

शहर में पानी की किल्लत की समस्या को देखते हुए निगम ने पानी के टैंकरों से आपूर्ति करने की योजना बनाई है। मुख्य अभियंता विशाल बंसल ने वार्ड अनुसार कर्मचारियों की जिम्मेदारी लगाई है। नागरिक अपने क्षेत्र में जलापूर्ति संबंधी समस्या होने पर या टैंकर मंगाने के लिए इन हेल्पलाइन नंबर पर कर्मचारियों से संपर्क कर सकते हैं।

सेक्टर-4 में भी दिक्कत

शहर के सबसे पुराने सेक्टर-4 में भी बीते दस दिन से पानी की किल्लत चल रही है। सेक्टर में लोगों के घरों में एक बूंद तक पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है। इसको लेकर निगम अधिकारियों व जीएमडीए अधिकारियों को शिकायत की जा चुकी है, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो रहा है। लोगों को महंगे दामों में पानी के टैंकर खरीदकर अपना गुजारा करना पड़ रहा है। स्थानीय निवासी योगिता कटारिया ने कहा कि अधिकारी जानबुझकर लोगों पानी की आपूर्ति को कम ज्यादा कर देते हैं।

गुरुग्राम नगर निगम कमिश्नर डॉ. नरहरिसिंह बांगड़ ने कहा कि गर्मी के मौसम में क्षेत्र में निर्बाध जलापूर्ति सुनिश्चित करने के लिए नगर गंभीरता से कार्य कर रहा है। अगर कहीं जलापूर्ति संबंधी समस्या आती है, तो वह अपने क्षेत्र के सुपरवाइजर से संपर्क करें। कर्मचारी जरूरत अनुसार पानी के टैंकर उपलब्ध करवाने की भी जिम्मेदारी निभाएंगे।

हेल्पलाइन नंबर जारी

● वार्ड-1, 2 व 7 के लिए-अमित कुमार 8901272801

● वार्ड- 8, 9 व 17 के लिए-अशोक 8396963099

● वार्ड-13,20,21, 22, 23, 24 के लिए-दीपक8383080586

● वार्ड- 10, 11, 12, 14, 15 व 16 के लिए कनिष्ठ अभियंता रोहित कुमार 9671895169

● वार्ड- 3, 4, 5, 6, 18 व 19 के लिए-प्रवीण 7053780189

● वार्ड- 28, 29 व 30 के लिए कनिष्ठ-अभियंता राहुल खान मोबाइल नंबर 9821395267

● वार्ड नंबर 31 व 32 के लिए सुपरवाईजर साहिल के मोबाइल नंबर 9050142102

● वार्ड नंबर 33, 34 व 35 के लिए कनिष्ठ अभियंता 9971070036

Advertisement