ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRगुरुग्राम के 60 से ज्यादा सेक्टरों में संवरेंगी बदहाल सड़कें, करीब 200 सोसाइटियों और कॉलोनियां को होगा फायदा

गुरुग्राम के 60 से ज्यादा सेक्टरों में संवरेंगी बदहाल सड़कें, करीब 200 सोसाइटियों और कॉलोनियां को होगा फायदा

गुरुग्राम में जल्द ही दर्जनों सड़कों की सूरत बदलने वाली है। गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) की तरफ से सेक्टर-67 से 115 तक की मुख्य सड़कों की मरम्मत के लिए डीपीआर तैयार की जा रही है।

गुरुग्राम के 60 से ज्यादा सेक्टरों में संवरेंगी बदहाल सड़कें, करीब 200 सोसाइटियों और कॉलोनियां को होगा फायदा
Praveen Sharmaगुरुग्राम। हिन्दुस्तानTue, 11 Jun 2024 02:27 PM
ऐप पर पढ़ें

गुरुग्राम में जल्द ही दर्जनों सड़कों की सूरत बदलने वाली है। गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) की तरफ से सेक्टर-67 से 115 तक की मुख्य सड़कों की मरम्मत के लिए डीपीआर तैयार की जा रही है। एक अनुमान के मुताबिक इस कार्य पर करीब 100 करोड़ रुपये का खर्चा आएगा। अगले 10 से 15 दिन के अंदर डीपीआर तैयार हो जाएगी। मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी की अध्यक्षता में होने वाली जीएमडीए की बैठक में इस डीपीआर को रखा जाएगा।

गुरुग्राम में मकानों की अवैध चौथी मंजिल को गिराने की तैयारी, 59 मकान मालिकों को नोटिस जारी

द्वारका एक्सप्रेसवे और एसपीआर के आसपास लगती इन मुख्य सड़कों पर करीब 60 सेक्टर लगते हैं। इन सेक्टरों में करीब 200 रिहायशी सोसाइटियां और कॉलोनियां विकसित हो चुकी हैं, जिसमें लाखों परिवारों ने रहना शुरू कर दिया है। जीएमडीए ने इन मुख्य सड़कों की वार्षिक मरम्मत के लिए टेंडर आवंटित किया हुआ है, लेकिन अब इन सड़कों की विशेष मरम्मत की योजना तैयार की है। मरम्मत के साथ-साथ इन मुख्य सड़कों पर थर्मोप्लास्टिक पेंट से लेन को विभाजित किया जाएगा।

सड़कों की हालत पर क्या कहते हैं स्थानीय लोग

रवि नगर बसई रोड निवासी अमित का कहना है कि बसई रोड की हालत बेहद बदतर है। सेक्टर-10 में ऑटो मार्केट के पास तो डेढ़ फीट तक गहरा गड्डा है, जिसकी वजह से सड़क हादसा हो सकता है। जीएमडीए को चाहिए कि इस सड़क की मरम्मत जल्द से जल्द करवाई जाए। वहीं, वाटिका चौक से लेकर दिल्ली-जयपुर हाइवे तक सड़क की स्थिति ठीक नहीं है। एसपीआर पुलिस चौकी के समीप तो सड़क पर आधे से एक फीट तक गहरे गड्ढे हैं, जिसकी वजह से सड़क हादसा बना रहता है।

वहीं, आरडब्ल्यूए, सारे होम्स के प्रधान प्रवीण मलिक ने कहा कि सेक्टर-81 से 95 तक की कई सड़कों की हालत ठीक नहीं है। दादी सती चौक के आसपास लगत सड़कों पर गड्ढे बने हुए हैं। इनकी तरफ जीएमडीए को ध्यान देने की जरूरत है।

जीएमडीए के मुख्य अभियंता अरुण धनखड़ ने कहा, ''सेक्टर-67 से 115 तक मुख्य सड़कों की विशेष मरम्मत करने को लेकर डीपीआर तैयार की जा रही है। अगले कुछ दिनों में यह तैयार हो जाएगी। इस डीपीआर को जीएमडीए की बैठक में रखा जाएगा। विशेष मरम्मत पर करीब 100 करोड़ रुपये का खर्च आने का अनुमान है।''