DA Image
21 जनवरी, 2020|10:43|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर में गंदगी देख भड़के सीएम खट्टर, कूड़ा उठाने वाली कंपनी पर ठोंका 25 लाख का जुर्माना

Haryana CM Manohar Lal Khattar

दूसरी बार हरियाणा के मुख्यमंत्री बनने के बाद मनोहर लाल खट्टर पहली बार गुरुवार को अचानक गुरुग्राम पहुंच गए। वह सीधे ओल्ड जेल चौक पहुंचे। उन्हें वहां पर गंदगी के ढेर मिले। इस पर उन्होंने कूड़ा उठाने वाली ईकोग्रीन कंपनी पर 25 लाख रुपये जुर्माना लगाने के निर्देश जारी कर दिए। उन्होंने बताया कि बार-बार यहां पर गंदगी की शिकायत मिल रही थी। इसी वजह से वह खुद यहां पहुंचे हैं। इसके अलावा सीएम ने विकास सदन के लघु सचिवालय का भी निरीक्षण किया। अधिकारियों को दोनों स्थानों पर जनता के लिए सुविधाएं बढ़ाने के निर्देश दिए।

कंपनी को रोज उठाना होगा कूड़ा :गुरुवार को शहर पहुंचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सफाई व्यवस्था का जायजा लिया। ओल्ड जेल चौक पर पहुंचे तो उन्हें गंदगी मिल गई। इस पर उन्होंने अधिकारियों से कूड़ा उठाने वाली जिम्मेदार कंपनी का नाम पूछा और जुर्माना लगाने के निर्देश जारी कर दिए। उन्होंने कहा कि कंपनी को शहर से प्रतिदिन डोर-टू-डोर कूड़ा उठाने के साथ ही डंपिंग ग्राउंड से कूड़ा उठाना होगा। अगर इसमें लापरवाही सामने आई तो दोबारा से जुर्माना लगाया जाएगा।

मिल रही थीं शिकायतें : मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरुग्राम से लगातार गंदगी की शिकायतें मिल रही थी, यहां से प्रतिदिन कूड़े का उठान नहीं होता है। इससे आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ता है। उनके निरीक्षण में गुड़गांव के विधायक सुधीर सिंगला, भाजपा जिला अध्यक्ष भूपेन्द्र चैहान व अधिकारी मौजूद रहे।

बड़े स्थान या दो ऑफिसों में बने सरल केंद्र

मुख्यमंत्री ने लघु सविचालय के सरल केंद्र का निरीक्षण किया। यहां पर उन्होंने टोकन आदि की व्यवस्था जानी। एक बुजुर्ग व्यक्ति ने उनसे बैठने की व्यवस्था न होने की शिकायत की तो उन्होंने जिला उपायुक्त को सरल बड़े स्थान पर बनाने अथवा दो कार्यालय बनाने के निर्देश दिए। बोले, ऐसी व्यवस्था बने कि कोई भी व्यक्ति दोनों कार्यालयों से अपने प्रमाण पत्र बनवा सके। बता दें कि नए व्हीकल एक्ट के बाद से डाइविंग लाइसेंस बनवाने के साथ ही अन्य प्रमाण पत्र बनवाने वालों की भीड़ बढ़ी है। इससे सरल केंद्र के बाद तक लंबी लाइनें लग जाती हैं। महिलाओं के साथ ही बुजुर्गों को भी बैठने का स्थान नहीं मिल पाता।

एक महिला को प्रमाण पत्र बनवाकर दिया

मुख्यमंत्री ने विकास सदन में अंत्योदय भवन का भी निरीक्षण किया। सबसे पहले वह काउंटर पर गए। पशुपालन विभाग की योजना का लाभ लेने के लिए पहुंचे लाभार्थी से बातचीत की और वहां कर्मचारी से योजना का लाभ देने संबंधी औपचारिकताएं पूरी करने को कहा। मुख्यमंत्री ने आपकी बेटी-हमारी बेटी योजना का लाभ लेने के लिए पहुंची लाभार्थी महिला से बात की और उसे इस योजना संबंधी प्रमाण पत्र भेंट किया। अंत्योदय भवन में साइनेज व योजनाओं संबंधी जानकारी चस्पा करने के निर्देश दिए।

कमेटी बनाने के निर्देश

मुख्यमंत्री ने नगर निगम आयुक्त अमित खत्री से कहा कि सफाई कार्यों व डपिंग ग्राउंड से कूड़ा उठाने की व्यवस्था के लिए वह एक अलग से कमेटी बनाएं। यह कमेटी डंपिंग प्वाइंट का निरीक्षण करेगी और कूड़ा उठावाएगी। डंपिंग प्वाइंटस से दिन में कम से कम एक बार कूड़ा उठाया जाना चाहिए। अगर कमेटी कहीं से भी कूड़ा न उठाने की रिपोर्ट देती है तो कंपनी पर कार्रवाई की जाए।

सात दिन में राशि जमा करें

मुख्यमंत्री मनोहरलाल के इकोग्रीन एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा कूड़े का उठान व निपटान सही ढंग से न करने पर जुर्माना लगाने के निर्देश पर हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने 25 लाख जुर्माना लगाया है। एचएसपीसीबी इससे पहले भी एनजीटी के आदेश पर कंपनी को नोटिस दे चुका है। अब कंपनी को सात दिन के भीतर इस जुर्माने को जमा करने का नोटिस दिया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gurugram mein gandgi dekh CM Khattar ko aaya gussa Ecogreen Company par 25 lakh ka fine lagaya