DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली: हार्ट पहुंचाने के लिए बनाया ग्रीन कॉरिडोर, 12 मिनट में एयरपोर्ट से पहुंचाया AIIMS

Symbolic Image

दिल्ली से करीब 1150 किलोमीटर दूर स्थित सूरत से एक ब्रेन डेड व्यक्ति का दिल दिल्ली के एम्स लाकर लंबे समय से भर्ती मरीज के शरीर में प्रत्यारोपित किया गया। डॉक्टरों के मुताबिक ह्दय प्रत्यारोपण सफल हुआ है। मरीज को फिलहाल आईसीयू में रखा गया है।

एम्स के ह्दय रोग विभाग के डॉ. संदीप सेठ का कहना है कि मरीज का एम्स में पिछले काफी से उपचार चल रहा है। कुछ समय पहले मरीज के वाल्व रिप्लेसमेंट भी किए गए थे, लेकिन चंद समय बाद उसे फिर से परेशानी होने लगी। दवाओं की डोज बढ़ाने के बाद भी जब 35 वर्षीय मरीज को लाभ नहीं मिला तो उसे ह्दय प्रत्यारोपण का फैसला लिया गया था। एक दिन पहले ही बुधवार को राष्ट्रीय अंग एवं ऊतक प्रत्यारोपण संगठन (नोटो) से जानकारी मिलने के बाद एम्स के डॉक्टरों की टीम सूरत के लिए रवाना हुई। सूरत निवासी युवक का एक सड़क हादसे में ब्रेन डेड हो चुका था, जिसके बाद परिजनों से महज एक अपील करने पर ही वे अंगदान के लिए तैयार हो गए।

दिल्ली पुलिस के अनुसार गुरुवार सुबह करीब 10:15 बजे इंदिरा गांधी हवाई अड्डे के टर्मिनल दो से एम्स तक ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया था। करीब 14 किलोमीटर लंबी इस दूरी को महज 12 मिनट में कवर किया गया। आमतौर पर इस दूरी को पूरा करने में करीब 40 से 45 मिनट का वक्त लगता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:green corridor made to deliver live heart from delhi airport to AIIMS in 12 minutes