ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट की नई DPR को मंजूरी, 17 KM लंबे सफर में होंगे 11 स्टेशन; ये दिक्कत भी होगी दूर

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट की नई DPR को मंजूरी, 17 KM लंबे सफर में होंगे 11 स्टेशन; ये दिक्कत भी होगी दूर

NMRC बोर्ड ने नोएडा से ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट पर चलने वाली मेट्रो लाइन की संशोधित डीपीआर को मंजूरी दे दी। अब इस डीपीआर को नोएडा-ग्रेनो प्राधिकरण बोर्ड से मंजूरी के बाद यूपी सरकार को भेजा जाएगा।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट की नई DPR को मंजूरी, 17 KM लंबे सफर में होंगे 11 स्टेशन; ये दिक्कत भी होगी दूर
Praveen Sharmaग्रेटर नोएडा। हिन्दुस्तानTue, 06 Feb 2024 07:48 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) के बोर्ड ने नोएडा से ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट पर चलने वाली मेट्रो लाइन की संशोधित डीपीआर को सोमवार को मंजूरी दे दी। अब इस डीपीआर को नोएडा-ग्रेनो प्राधिकरण बोर्ड से मंजूरी के बाद यूपी सरकार को भेजा जाएगा। इस रूट पर 11 स्टेशन बनाए जाएंगे।

यह एक्वा लाइन का एक्सटेंशन रूट होगा। इस लाइन पर सेक्टर-51 से ग्रेटर नोएडा डिपो तक मेट्रो चल रही है। एनएमआरसी के अधिकारियों का दावा है कि विस्तार रूट पर मेट्रो चलने से 130 मीटर रोड पर लग रहे जाम में कमी आएगी। रूट बढ़ने और दो स्टेशन अतिरिक्त बनने से इसकी लागत करीब 794 करोड़ रुपये बढ़ गई है। अब इस रूट की लागत 2991 करोड़ रुपये तय की गई है। पहले यह 2197 करोड़ रुपये थी।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रूट में बदलाव, अब 9 के बजाय यहां बनेंगे 11 स्टेशन; इन सेक्टरों को होगा फायदा

अधिकारियों ने बताया कि मेट्रो चलने की शुरुआत में करीब सवा लाख राइडरशिप इस रूट पर रहेगी। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सोमवार को एनएमआरसी की बोर्ड बैठक नहीं हुई थी, लेकिन बोर्ड के सदस्यों से हस्ताक्षर कराकर इस परियोजना को आगे बढ़ाया गया। सेक्टर-70 स्टेशन भी तय किया गया।

यह रूट ढाई किलोमीटर लंबा होगा : इस बार मेट्रो का, जो रूट बनाया गया है, वह पहले के मुकाबले ढाई किलोमीटर लंबा है। पहले 14 किलोमीटर लंबा रूट था, जो अब 17.435 किलोमीटर लंबा हो गया है।

सेक्टर-61 इंटरचेंज स्टेशन बनेगा

इस रूट पर अब सेक्टर-61 स्टेशन पर दिल्ली से आ रही ब्लू और ग्रेनो वेस्ट जाने एक्वा मेट्रो लाइन जुड़ जाएगी। लोगों को मेट्रो बदलने के लिए नीचे नहीं उतरना पड़ेगा। ऐसे में यह इंटरचेंज स्टेशन बनेगा। अब लोगों को दिल्ली जाने के लिए मेट्रो लेने को सेक्टर-51 पर नीचे उतरकर पैदल चलने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हालांकि, नोएडा विकास प्राधिकरण सेक्टर-51 और 52 स्टेशन को जोड़ने के लिए स्काईवॉक बनवा रहा है।

-डॉ. लोकेश एम, प्रबंध निदेशक, एनएमआरसी, ''एनएमआरसी बोर्ड ने सोमवार को नोएडा से ग्रेनो वेस्ट जाने वाली लाइन की डीपीआर को मंजूरी दे दी है। अब इसको मंजूरी के लिए यूपी सरकार को भेजा जाएगा।'' 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें