ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRनोएडा पुलिस को मिली रवि काना की 5 दिन की रिमांड, सामने आएंगे मददगारों के नाम

नोएडा पुलिस को मिली रवि काना की 5 दिन की रिमांड, सामने आएंगे मददगारों के नाम

गौतमबुद्ध नगर जिला अदालत ने मंगलवार को स्क्रैप माफिया रवि काना की पांच दिन की पुलिस रिमांड मंजूर कर दी। अब उसको पुलिस की पांच दिन की पूछताछ के बाद छह मई को अदालत में पेश किया जाएगा।

नोएडा पुलिस को मिली रवि काना की 5 दिन की रिमांड, सामने आएंगे मददगारों के नाम
Krishna Singhहिन्दुस्तान,नोएडाTue, 30 Apr 2024 11:53 PM
ऐप पर पढ़ें

जिला अदालत ने मंगलवार को स्क्रैप माफिया रवि काना की पांच दिन की पुलिस रिमांड मंजूर कर दी, जबकि काजल की याचिका पर सुनवाई नहीं हो सकी। रिमांड के दौरान रवि से स्क्रैप और सरिया के काले कारोबार के बारे में जानकारी जुटाई जाएगी। पुलिस एक मई की दोपहर 12:00 बजे जेल से माफिया रवि को सुरक्षा के बीच थाने लेकर आएगी। इसके बाद पूछताछ शुरू होगी। पुलिस की पांच दिन की पूछताछ के बाद छह मई की दोपहर 12:00 बजे अदालत में पेश किया जाएगा।

दर्ज हुआ था गैंगरेप का केस
दनकौर कोतवाली क्षेत्र के दादूपुर गांव के रहने वाले स्क्रैप माफिया रविंद्र नागर उर्फ रवि काना के खिलाफ 30 दिसंबर को नोएडा के सेक्टर-39 थाने में गैंगरेप का मुकदमा दर्ज हुआ था। इसके बाद दो जनवरी को माफिया रवि, उसकी महिला मित्र काजल झा और पत्नी समेत 16 लोगों पर सेक्टर बीटा दो कोतवाली पुलिस ने गैंगस्टर ऐक्ट में मुकदमा दर्ज किया था। इसके बाद से माफिया रवि और उसकी महिला मित्र काजल झा फरार थी। दोनों थाईलैंड के बैंकॉक में छिपे थे।

पुलिस ने मांगी थी रिमांड
पुलिस की मजबूत पैरवी के चलते दोनों थाईलैंड में पकड़े गए। इसके बाद थाईलैंड पुलिस ने इंटरपोल के जरिए दोनों को भारत डिपोर्ट किया था। नॉलेज पार्क थाना पुलिस ने रवि और काजल को एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर शनिवार को कोर्ट में पेश किया था। पुलिस ने गौतमबुद्ध नगर की गैंगस्टर कोर्ट में माफिया रवि और काजल की पुलिस कस्टडी रिमांड के लिए अर्जी दाखिल की थी। न्यायालय में मंगलवार को मामले की सुनवाई हुई।

पुलिस रिमांड मंजूर
अदालत ने पुलिस की अर्जी स्वीकार करते हुए रवि की पांच दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर की। नॉलेज पार्क थाना पुलिस द्वारा गैंगस्टर के मुकदमे की विवेचना की जा रही है। इसके चलते नॉलेज पार्क थाना पुलिस द्वारा ही दोनों से पूछताछ की जाएगी। 

कुछ ठिकानों पर दबिश देगी पुलिस
पुलिस द्वारा पूछताछ में माफिया के स्क्रैप और सरिया के काले कारोबार के बारे में जानकारी जुटाई जाएगी। इसके साथ ही पुलिस माफिया रवि को साथ लेकर उसके कुछ ठिकानों पर दबिश देगी। कुछ अहम दस्तावेज भी बरामद किए जाने हैं। इसके साथ ही संरक्षण देने वाले लोगों के नाम के बारे में पूछताछ होगी। काले कारोबार से जुड़े लेखा-जोखा से संबंधित दस्तावेज बरामद किए जाएंगे। इसके साथ पुलिस द्वारा तमाम साक्ष्य जुटाए जाएंगे, जिन्हें चार्जशीट में शामिल किया जाएगा।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई पेशी
स्क्रैप माफिया रवि काना की सुरक्षा के मद्देनजर मंगलवार को सुनवाई के लिए उसे कोर्ट में नहीं लाया गया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रवि की पेशी हुई। दरअसल, बचाव पक्ष के अधिवक्ता ने सोमवार को अदालत से गुजारिश की थी कि रवि की जान को खतरा है। इसके चलते सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान की जाए।