ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRएक रात में उजड़ गया पूरा परिवार, ग्रेटर नोएडा में एक ही परिवार के 4 लोगों की संदिग्ध मौत से सनसनी

एक रात में उजड़ गया पूरा परिवार, ग्रेटर नोएडा में एक ही परिवार के 4 लोगों की संदिग्ध मौत से सनसनी

ग्रेटर नोएडा के तुस्याना गांव में एक ही परिवार के चार लोगों की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। चारों के शव एक कमरे में पड़े थे। कमरे से गैस रिसाव की बदबू आने पर पड़ोसियों ने घटना की सूचना पुलिस को दी थी।

एक रात में उजड़ गया पूरा परिवार, ग्रेटर नोएडा में एक ही परिवार के 4 लोगों की संदिग्ध मौत से सनसनी
Praveen Sharmaग्रेटर नोएडा। हिन्दुस्तानSat, 03 Feb 2024 06:39 AM
ऐप पर पढ़ें

ग्रेटर नोएडा वेस्ट के तुस्याना गांव में एक ही परिवार के चार लोगों की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। चारों के शव एक कमरे में पड़े थे। कमरे से गैस रिसाव की बदबू आने पर पड़ोसियों ने घटना की सूचना पुलिस को दी थी। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर अंदर जाकर देखा तो सभी लोग मृत थे। पुलिस दम घुटने से मौत होने की आशंका जता रही है।

सेक्टर ईकोटेक-3 कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, मूलरूप से हाथरस के सराय सिकंद्राराऊ के रहने वाले 30 वर्षीय चंद्रेश अपनी 28 वर्षीय पत्नी निशा, 22 वर्षीय भाई राजेश और 19 वर्षीय बहन बबली के साथ तुस्याना गांव में पवन के मकान में किराये पर रहता था। चंद्रेश जोमैटो में डिलीवरी ब्वॉय की नौकरी करता था, जबकि राजेश परांठे की ठेली लगाता था।

मकान मालिक पवन ने शुक्रवार की देर शाम पुलिस को सूचना दी कि उनके कमरे से गैस रिसाव की बदबू आ रही है। सूचना पर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और दरवाजा तोड़कर देखा तो कमरे में परिवार के सभी लोग मृत पड़े थे। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट आने पर मौत का सही कारण पता चल सकेगा। पूरे प्रकरण की जांच की जा रही है। घटना की जानकारी मृतकों के परिजनों को दे दी गई। वहीं, इस घटना के बाद इलाके में शोक की लहर फैल गई।

दम घुटने से मौत होने की आशंका

पुलिस के मुताबिक, प्रथमदृष्टया दम घुटने से चारों की मौत होने की आशंका है। कमरे से गैस रिसाव की बदबू आ रही थी। कमरे में गैस पर आलू से भरा एक भगोना रखा हुआ था। आशंका है कि गैस चलती छोड़ परिवार के सभी सदस्य सो गए थे। इसके बाद ऑक्सीजन की कमी होने से मौत हुई। हालांकि, मौत का सही कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चल सकेगा।

तीन दिन से नहीं उठे फोन

परिवार के सभी सदस्यों की मौत तीन दिन पहले हुई थी। तीन दिन से कमरे में शव पड़े हुए थे, लेकिन किसी को इसकी भनक तक नहीं। पुलिस की जांच में पता चला है कि मोबाइल की कॉल डिटेल देखने पर तीन दिन पहले मौत की बात सामने आ रही है। एक मृतक के मोबाइल पर 31 जनवरी को अंतिम कॉल हुई। इसके बाद की मिस कॉल पड़ी हैं। इससे पता चलता है कि सभी की मौत तीन दिन पहले हुई थी।

घटनास्थल से फॉरेंसिक टीम ने सबूत जुटाए

घटना की सूचना पर फॉरेंसिक टीम को भी मौके पर बुलाया गया। फॉरेंसिक टीम ने कमरे से कुछ सबूत इकट्ठे किए ताकि घटना के बारे में जानकारी जुटाई जा सके।

-सुनीति, डीसीपी सेंट्रल नोएडा, ''पुलिस की शुरुआती जांच में दम घुटने से चारों लोगों की मौत की बात सामने आ रही है। हालांकि, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से मौत का सही कारण स्पष्ट हो सकेगा। इसके अलावा पुलिस द्वारा सभी बिंदुओं को ध्यान में रखकर गहनता से जांच की जा रही है।''

पहले भी ऐसी घटनाएं हुईं

● 25 जनवरी 2024 छिजारसी गांव में गैस हीटर के कारण दम घुटने से पिता और मासूम बेटे की जान गई।

● फरवरी 2022 कुलेसरा गांव में रहने वाले बुजुर्ग दंपति की दम घुटने के कारण मौत हुई। 

● 15 जनवरी 2024 बिरौड़ी गांव में अंगीठी जलाकर सोई गायत्री देवी की मौत हुई। उनके बेटे को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें