DA Image
4 मार्च, 2021|12:23|IST

अगली स्टोरी

ग्रेटर नोएडा फिल्म सिटी पीपीपी मॉडल पर विकसित होगी? ड्राफ्ट रिपोर्ट में दिया गया सुझाव

yamuna expressway

यमुना प्राधिकरण के सेक्टर-21 में बनने वाली फिल्म सिटी की ड्राफ्ट रिपोर्ट अफसरों को सौंप दी गई है। अमेरिकन कंपनी सीबीआरई ने ड्राफ्ट रिपोर्ट बनाई है। ड्राफ्ट रिपोर्ट में फिल्म सिटी को पीपीपी मॉडल पर विकसित करने के साथ ही दो और विकल्प सुझाए गए हैं। अब सरकार फैसला करेगी कि किस मॉडल पर फिल्म सिटी विकसित की जाए। फिल्म सिटी में शूटिंग, एडटिंग समेत सभी तरह की सुविधाओं को विकसित करने का सुझाव दिया गया है। फिल्म सिटी के निर्माण की लागत का जिक्र ड्राफ्ट रिपोर्ट में नहीं किया गया है।

यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में 1000 एकड़ में फिल्म सिटी को बसाने की योजना चल रही है। फिल्म सिटी की डीपीआर सीबीआरई कंपनी बना रही है। कंपनी ने सोमवार को अपनी ड्राफ्ट रिपोर्ट प्राधिकरण को सौंप दी है। अगले एक महीने में डीपीआर बन जाएगी।

प्राधिकरण के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि फिल्म सिटी में थ्री डी स्टूडियो, 360 डिग्री पर घूमने वाले सेट, फिल्म इंस्टीट्यूट आदि बनाने का सुझाव दिया है। ड्राफ्ट रिपोर्ट में दुनिया के सबसे आधुनिक फिल्म स्टूडियो बनाने की झलक दिख रही है। सेक्टर-21 में बनने वाली फिल्म सिटी वन स्टॉप वन शॉप की तर्ज पर बनाई जाएगी। देश के किसी भी राज्य के गांव से लेकर वहां के माहौल को तैयार किया जाएगा। यहां पर ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, ओपेन व इंडोर स्टूडियो, किड्स, वेब सीरीज, कार्टून सहित हर तरह की शूटिंग के लिए सारे इंतजाम होंगे। सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि ड्राफ्ट रिपोर्ट को सरकार को भेजा जाएगा। वहां से मंजूरी मिलने के बाद इस दिशा में आगे बढ़ा जाएगा।

फिल्म निर्माता सीईओ से मिले

फिल्म सिटी के निर्माण को लेकर बालीवुड की दिलचस्पी बढ़ती जा रही है। सोमवार को फिल्म निर्माता अनुभूति वैद्य की अगुवाई में आई टीम ने सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह से मुलाकात की। उन्होंने फिल्म सिटी में प्रस्तावित सुविधाओं के बारे में चर्चा की। सीईओ ने पूरी परियोजना के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की। बताया कि इसकी ड्राफ्ट रिपोर्ट बन गई है। जल्द ही इस दिशा में आगे बढ़ा जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Greater Noida Film City to develop on PPP model