ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRग्रेटर नोएडा आने-जाने वालों को राहत, कासना का जाम खत्म करने को बन रहे फ्लाईओवर की डेडलाइन आई सामने

ग्रेटर नोएडा आने-जाने वालों को राहत, कासना का जाम खत्म करने को बन रहे फ्लाईओवर की डेडलाइन आई सामने

ग्रेटर नोएडा आने-जाने वालों को जल्द राहत मिलने जा रही है। उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण की साइट-5 और ईपीआईपी की कनेक्टिविटी को बेहतर करने के लिए बन रहा फ्लाईओवर इस वर्ष तैयार हो जाएगा।

ग्रेटर नोएडा आने-जाने वालों को राहत, कासना का जाम खत्म करने को बन रहे फ्लाईओवर की डेडलाइन आई सामने
Praveen Sharmaग्रेटर नोएडा। हिन्दुस्तानFri, 09 Feb 2024 10:40 AM
ऐप पर पढ़ें

ग्रेटर नोएडा आने-जाने वालों को जल्द राहत मिलने जा रही है। उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम की साइट-5 और ईपीआईपी की कनेक्टिविटी को बेहतर करने के लिए बन रहा फ्लाईओवर इस वर्ष तैयार हो जाएगा। सावित्रीबाई फूले इंटर कॉलेज के पास पिलर का निर्माण किया जा रहा है। इस फ्लाईओवर के बनने से औद्योगिक सेक्टर के उद्यमियों और ग्रामीणों को कासना के जाम से निजात मिलेगी।

औद्योगिक सेक्टर ईपीआईपी स्थित फ्लैटेड फैक्ट्री के निकट 30 मीटर चौड़ी रोड को सावित्री बाई फूले बालिका विद्यालय के सामने की 30 मीटर चौड़ी सड़क से जोड़ा जाएगा। इसके लिए फ्लाईओवर बनाया जा रहा है। फ्लाईओवर के बनने से साइट-5 और ईपीआईपी औद्योगिक सेक्टर की कनेक्टिविटी बेहतर हो जाएगी।

इस फ्लाईओवर की चौड़ाई करीब 11 मीटर और लंबाई करीब 450 मीटर की होगी। इसको करीब 18 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाएगा। इसका निर्माण कार्य तेजी से आगे बढ़ रहा है। फ्लाईओवर के लिए रोड मैपिंग कर पिलर खड़े करने का काम शुरू कर दिया गया है। अभी दो पिलर बनाए जा रहे हैं। पिलर का काम पूरा कर मिट्टी डालकर सड़क की ढलाई का काम होगा। सेक्टर ईपीआईपी में 423 और साइट-5 में 1099 फैक्ट्रियां हैं। फ्लाईओवर का निर्माण होने से यहां की कनेक्टिविटी बेहतर हो जाएगी। लोग यमुना एक्सप्रेसवे से उतरकर जीबीयू के बगल के रास्ते से होकर सावित्रीबाई फूले इंटर कॉलेज पहुंचेंगे। जहां से वे फ्लाईओवर पर चढ़कर ईपीआईपी औद्योगिक सेक्टर में प्रवेश कर जाएंगे। ऐसे में लोगों को कासना और परी चौक के जाम में फंसना नहीं पड़ेगा।

-एनके जैन, वरिष्ठ प्रबंधक (सिविल), यूपीएसआईडी, गौतमबुद्ध नगर, ''उत्तर प्रदेश ब्रिज कॉरपोरेशन को फ्लाईओवर के निर्माण कार्य की जिम्मेदारी दी गई है। रोड मैपिंग कर पिलर खड़े करने का काम शुरू हो गया है। इस साल के अंत तक फ्लाईओवर बनकर तैयार कर दिया जाएगा। इसका निर्माण पूरा होने से साइट-5 और ईपीआईपी औद्योगिक सेक्टर की कनेक्टिविटी बेहतर हो जाएगी।'' 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें