ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRGhaziabd Crime : पहले पीटा फिर बोलेरो से 3 बार कुचला, गाजियाबाद में भयानक वारदात; ऑटो चालक से क्यों हुई बेरहमी

Ghaziabd Crime : पहले पीटा फिर बोलेरो से 3 बार कुचला, गाजियाबाद में भयानक वारदात; ऑटो चालक से क्यों हुई बेरहमी

Ghaziabd Crime : इसी दौरान प्रदीप ने इन लोगों से गाड़ी हटाने के लिए कहा ताकि उनकी ऑटो आगे बढ़ सके। लेकिन इसी दौरान शराब में धुत इन लोगों की प्रदीप से बहस शुरू हो गई। जिसके बाद प्रदीप के साथ मारपीट हुई

Ghaziabd Crime : पहले पीटा फिर बोलेरो से 3 बार कुचला, गाजियाबाद में भयानक वारदात; ऑटो चालक से क्यों हुई बेरहमी
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 20 Feb 2024 01:37 PM
ऐप पर पढ़ें

Ghaziabd Crime : गाजियाबाद में एक युवक को बड़ी ही बेरहमी से मौत के घाट उतारा गया। युवक का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने बीच रास्ते पर गाड़ी लगाकर शराब पी रहे कुछ लोगों को गाड़ी हटाने के लिए कहा था। यह भी बताया जा रहा है कि ऑटो चालक से पहले मारपीट की गई औऱ फिर तीन बार उसपर बोलेरो गाड़ी चढ़ा कर उतार दी गई। दहला देने वाली यह वारदात मोदीनगर क्षेत्र के गांव सारा की है। बताया जा रहा है कि 21 साल के प्रदीप रविवार की देर शाम अपने ऑटो से घर लौट रहे थे। इसी दौरान बीच रास्ते पर बोलेरो गाड़ी खड़ी कर कुछ लोग शराब पी रहे थे। 

इसी दौरान प्रदीप ने इन लोगों से गाड़ी हटाने के लिए कहा ताकि उनकी ऑटो आगे बढ़ सके। लेकिन इसी दौरान शराब में धुत इन लोगों की प्रदीप से बहस शुरू हो गई। इसके बाद प्रदीप की पहले पिटाई की गई और फिर उन्हें बोलेरो से बुरी तरह कुचल दिया गया। घटना में 7 लोग शामिल थे। बताया जा रहा है कि प्रदीप को तीन बार बोलेरो कार से कुचला गया।

बताया जा रहा है कि सड़क से गाड़ी हटाने की बात कहने पर प्रदीप को ऑटो से खींच कर उतारा गया था। इसके बाद उनपर लात-घूंसे बरसाए गए थे लेकिन जब आरोपियों का दिल इतने से भी नहीं भरा तब उन्होंने प्रदीप पर बोलेरो गाड़ी चढ़ा तीन बार आगे-पीछे किया। प्रदीप की वही मौत हो गई थी। इस घटना के बाद मृतक प्रदीप के परिजन आक्रोशित हो गए। 

नाराज परजिन स्थानीय थाने में पहुंच गए और वहां प्रदर्शन करने लगे। परिजनों ने निवाड़ी थाने से लेकर मोदी नगर तहसील तक जमकर हंगामा किया। परिजन आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग के साथ-साथ उचित मुआवजे और मृतक के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी की मांग कर रहे थे।

गाजियाबाद पुलिस ने किसी तरह प्रदीप के परिजनों को समझाबुझा कर शांत कराया। प्रदर्शनकारी मेरठ-गाजियाबाद सड़क को जाम करने पर उतारू थे। इस मामले में पुलिस ने 7 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि सभी आरोपियों की तलाश की जा रही है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें