ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRGhaziabad: ईस्टर्न पेरिफेरल आधी रात को मची चीख-पुकार, बकरीद पर घर जा रहे 4 लोगों की एक्सीडेंट में मौत; 24 घायल

Ghaziabad: ईस्टर्न पेरिफेरल आधी रात को मची चीख-पुकार, बकरीद पर घर जा रहे 4 लोगों की एक्सीडेंट में मौत; 24 घायल

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर शनिवार देर रात हुए दर्दनाक हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई, जबकि 24 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। हादसे का शिकार हुए सभी लोग ईद के मौके पर हरियाणा से हरदोई जा रहे थे।

Ghaziabad: ईस्टर्न पेरिफेरल आधी रात को मची चीख-पुकार, बकरीद पर घर जा रहे 4 लोगों की एक्सीडेंट में मौत; 24 घायल
road accident on eastern peripheral expressway
Praveen Sharmaमुरादनगर (गाजियाबाद)। हिन्दुस्तानSun, 16 Jun 2024 10:09 AM
ऐप पर पढ़ें

गाजियाबाद के मुरादनगर इलाके में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर शनिवार देर रात हुए दर्दनाक हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई, जबकि 24 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। हादसे का शिकार हुए सभी लोग ईद के मौके पर हरियाणा के गन्नौर से उत्तर प्रदेश के हरदोई जा रहे थे। पुलिस ने मृतकों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और  एंबुलेंस की मदद से घायलों को इलाज के लिए अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। 

जानकारी के अनुसार, ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर गांव रेवड़ा रेवड़ी के पास शनिवार देर रात करीब सवा बजे के आसपास एक खडे़ हुए कैंटर में पीछे से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबर्दस्त थी कि कैंटर पलट गया। इस हादसे में कैंटर सवार 4 लोगों की मौत हो गई ,जबकि 24 लोग घायल हो गए। सभी घायलों को गाजियाबाद और दिल्ली के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

दिल्ली के पास दर्दनाक हादसा, लोनी में 3 युवकों की ट्रेन से कटकर मौत

बताया जा रहा है कि, कैंटर में सवार सभी लोग ईंट भट्ठा मजदूर हैं, जो ईद पर हरियाणा के गन्नौर से हरदोई जा रहे थे। कैंटर में कुल 35 मजदूर सवार थे। जब वह ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर गांव रेवड़ा रेवड़ी के पास पहुंचे तो उन मजदूरों ने कैंटर चालक से वाहन रोकने के लिए कहा। इसके बाद चालक ने कैंटर को एक्सप्रेसवे पर साइड में रोक दिया। इसी बीच बागपत की और से आ रहे एक तेज रफ्तार ट्रक ने कैंटर में टक्कर मार दी। जोरदार टक्कर के चलते कैंटर पलट गया और उसमें सवार लोग नीचे दब गए। इसके बाद रात में एक्सप्रेसवे पर चीख-पुकार मच गई। वहां से गुजर रहे राहगीरों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

हादसे की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने क्रेन की मदद से कैंटर को सीधा किया और 19 घायलों को निकाल कर एंबुलेंस से गाजियाबाद के संयुक्त जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इनमें से 9 लोगों को दिल्ली के लिए रेफर किया गया है। अन्य लोग संयुक्त अस्पताल में उपचाराधीन हैं। 

इस हादसे में इरसाद (20 वर्ष), नाजुमन पत्नी ईश्वर (60 वर्ष), सबीना (21 वर्ष) और माया देवी (40 वर्ष) की मौके ही मौत हो गई। सभी मृतक उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के थाना मझला अंतर्गत आने वाले मझला कुमरूआ गांव के निवासी रहने वाले थे।

हादसे में घायल हुए लोग

शंकर (70), सुनहरा (20 ), महेंद्र (48), रुचि(16 ), हास्नूर (3 वर्ष), रूबी ( 22), शबनुर (5), सुलेमान (28), शाहिद (22), शाद मोहम्मद (34) ,खुशनुमा (22),फलकनूर (3), अयान (5), फैजान (1), चुन्नू (30), रासना (25) वर्ष, अंशिका (12), नन्हीं (35), चांद बाबू  (1), सुनैनी (8), गुफरान (4), फलक (3) , शान मोहम्मद उमर (13) 

गाजियाबाद के एडिशनल डीसीपी ट्रैफिक वीरेन्द्र कुमार ने कहा, ''तेज रफ्तार ट्र्रक ने कैंटर में टक्कर मारी है। कैंटर सवार चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। घायलों को गाजियाबाद के जिला संयुक्त अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालात गंभीर होने पर नौ लोगों को दिल्ली के दिल्ली के जीटीबी अस्पताल के लिए रेफर कर दिया है। पुलिस ने वाहनों को सड़क से हटाकर यातायात सुचारु करा दिया है।''