ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRगाजियाबाद के बैंक खाते में PAK से क्यों आए 70 लाख? जांच एजेंसी ने बताया, पुलिस- खुफिया विभाग अलर्ट

गाजियाबाद के बैंक खाते में PAK से क्यों आए 70 लाख? जांच एजेंसी ने बताया, पुलिस- खुफिया विभाग अलर्ट

गाजियाबाद में मुस्लिम शख्स के बैंक खाते में पाकिस्तान से 70 लाख रुपए की रकम क्यों भेजी गई थी। इसका खुलासा जांच एजेंसी ने कर दिया है। आरोपी के खातों में दर्जनभर से ज्यादा किश्तों में रकम आई थी।

गाजियाबाद के बैंक खाते में PAK से क्यों आए 70 लाख? जांच एजेंसी ने बताया, पुलिस- खुफिया विभाग अलर्ट
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,मोदीनगरWed, 15 Nov 2023 07:19 AM
ऐप पर पढ़ें

जांच एजेंसी ने दावा किया है कि गाजियाबाद के फरीदनगर निवासी रियाजु्द्दीन के खाते में पाकिस्तान से भेजी गई रकम का मकसद उसे सुरक्षा संस्थानों के बारे में जानकारी जुटाने के लिए धन मुहैया कराना था। आरोपी रियाजुद्दीन और उसका साथी इजहारुल हुसैन पाकिस्तान की एंजेसी के संपर्क में थे। आरोपी के खाते में दर्जन भर से अधिक किस्तों में रकम आई थी।

मंगलवार को भी फरीदनगर निवासी रियाजुद्दीन के घर पूछताछ करने के लिए एटीएस की टीम पहुंची। जांच एजेंसी के सूत्रों के अनुसार, आरोपी और उसका साथी लंबे अरसे से पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के संपर्क में थे। उनका मकसद दोनों को स्लीपर सेल के तौर पर सक्रिय करना था। दोनों के माध्यम से दिल्ली-एनसीआर में स्थित प्रमुख सुरक्षा और राजनीतिक संस्थानों के बारे में जानकारी जुटाना चाहते थे। इसी उदेश्य के लिए रियाजु्द्दीन के खाते में 70 लाख रुपये भेजे गए। कुछ रकम पंजाब और हरियाणा से भी आई है।

पिता बोले, ऑनलाइन बैंकिंग नहीं जानता रियाजु्द्दीन 

रियाजु्द्दीन के पिता का कहना है कि जांच एजेंसियों के द्वारा उसे अकारण फंसाया जा रहा। केनरा बैंक के जिस खाते में पाकिस्तान से रकम भेजी गई, उस खाते का इस्तेमाल रियाजु्द्दीन ने लंबे समय से नहीं किया था। रियाजु्द्दीन के साथी इजहारुल हुसैन ने उसके सीधेपन का लाभ उठाते हुए खाते को अपने नियंत्रण में ले लिया और उसमें रकम मंगाई। खाते रियाजुद्दीन के नाम से था, इसलिए उसे मुख्य आरोपी बनाया जा रहा है। परिजनों का कहना है कि रियाजु्द्दीन को ऑनलाइन बैंकिंग के बारे में बहुत कम जानकारी है। इस कारण वह ऑनलाइन खाते में रकम नहीं मंगा सकता है।

जानकारी के लिए अलर्ट मोड में खुफिया विभाग

स्लीपर सेल की सक्रियता के बारे में जानकारी मिलने पर स्थानीय पुलिस के अलावा खुफिया विभाग अलर्ट हो गया है। उच्चाधिकारियों के नेतृत्व में जांच टीम मंगलवार को भी फरीदनगर पहुंची और रियाजु्द्दीन के परिवार व परिचितों से बात की। एटीएस ने हिरासत में लिए गए संदिग्ध रियाजुद्दीन को पूछताछ करने के बाद छोड़ दिया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें