ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRगाजियाबाद में निर्माणाधीन फैक्टरी का लेंटर गिरने से एक मजदूर की मौत, दो घायल; परिजनों का हंगामा

गाजियाबाद में निर्माणाधीन फैक्टरी का लेंटर गिरने से एक मजदूर की मौत, दो घायल; परिजनों का हंगामा

मोदीनगर की सिखैड़ा मार्ग औद्योगिक क्षेत्र में एक फैक्टरी का निर्माण कार्य चल रहा है। फैक्टरी परिसर में दस दिन से निर्माण कार्य कराया जा रहा है। लेंटर के मलबे में दो मजदूर दब गए।

गाजियाबाद में निर्माणाधीन फैक्टरी का लेंटर गिरने से एक मजदूर की मौत, दो घायल; परिजनों का हंगामा
Swati Kumariहिन्दुस्तान,मोदीनगरThu, 29 Feb 2024 11:15 PM
ऐप पर पढ़ें

गाजियाबाद के मोदीनगर की सिखैड़ा मार्ग स्थित औद्योगिक क्षेत्र परिसर में गुरुवार रात आठ बजे के आसपास एक निर्माणाधीन फैक्टरी का लेंटर गिर गया। लेंटर के मलबे में दो मजदूर दब गए। एक मजदूर की मौके पर ही मौत हो गई,जबकि दो की हालात गंभीर बनी हुई है। परिजन शव को घटनास्थल पर रखकर हंगामा कर रहे है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मोदीनगर की सिखैड़ा मार्ग औद्योगिक क्षेत्र में एक फैक्टरी का निर्माण कार्य चल रहा है। फैक्टरी परिसर में दस दिन से निर्माण कार्य कराया जा रहा है। अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि फैक्टरी का निर्माण कौन करा रहा है। 

निर्माण कार्य का ठेका नदीम नामक ठेकेदार पर है। नदीम हापुड से मजदूर लाकर काम निर्माण कार्य करा रहा है। बताया जा रहा है कि गुरुवार को निर्माणाधीन फैक्टरी में तीन सौ मीटर तक लेंटर डाला गया था। गुरुवार शाम को आठ बजे के आसपास लेंटर डाला गया था। रात सवा आठ बजे हापुड के शिवपुरी कॉलोनी निवासी 20 वर्षीय विशाल व  प्रिंस के साथ अन्य मजदूर  लेंटर के नीचे लगी बल्लियों को चैक करने के लिए भेजा गया। 

बताया जा रहा है कि इसी बीच लेंटर भरभराकर गिर गया। लेंटर के मलबे में विशाल ,प्रिंस ,ललित दब गए। चीख पुकार सुन मौके पर पहुंचे। मजदूरों ने एक घंटे के अंदर किसी तरह से मलबा हटाकर मजदूरों को बाहर निकाला। विशाल नामक मजदूर की मौके पर ही मौत हो गई थी। जबकि प्रिंस व ललित को  गंभीर हालात में निजी अस्पताल में भर्ती कराया। मौके से निर्माण कार्य कराने वाले ठेकेदार व फैक्टरी स्वामी मौके से फरार हो गए। सूचना देने के बाद भी वह नहीं पहुंचे। 

परिजनों ने शव रखकर कर रहे है हंगामा: 
बताया जा रहा है कि घटना के एक घंटे बाद परिजनों को विशाल की मौत होने की सूचना दी गई। सूचना मिलते ही परिजन मौके पर पहुंच गए। परिजनों ने शव को फैक्टरी परिसर में रखकर हंगामा कर रहे है। परिजनों का आरोप है कि निर्माण कार्य में लापरवाही बरती गई है। जब हादसा हो गया था तो तुरन्त इसकी सूचना क्यों नहीं दी गई। उनका आरोप  है कि विशाल की हत्या की गई और हादसा दिखाया जा रहा है। 

फैक्टरी स्वामी व निर्माण ठेकेदार की लापरवाही आई सामने: 
बताया जा रहा है कि दो दर्जन से अधिक मजदूर लेंटर डालने के लिए हापुड से लाए गए थे। लेंटर गिरते ही फैक्टरी स्वामी व निर्माण ठेकेदार नदीम निवासी सीकरी कलां  मौके से फरार हो गए। लेंटर डालते समय भी मानको का पालन नहीं किया गया। बताया जा रहा है कि एक घंटे तक मजदूर मलबे में दबे रहे। यदि समय रहते ही जेसीबी मशीन से मलबा हट जाता तो शायद विशाल की जान बच सकती थी। प्रत्यक्षदर्शी बता रहे है कि मलबे में आधा दर्जन से अधिक मजदूर दबे है। हालाकि इसकी पुष्ठि नहीं हो पा रही है। 

मोदीनगर के एसीपी ज्ञानप्रकाश राय ने कहा, 'सिखैड़ा औद्योगिक क्षेत्र में निर्माणाधीन फैक्टरी का लेंटर गिरा है। मलबे में दबकर एक मजदूर की मौत हुई है। जबकि दो मजूदर घायल बताए जा रहे है। फैक्टरी किसी की है ,इसका अभी तक पता नहीं चला है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाएगा। तहरीर आने पर रिपोर्ट दर्ज कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें