ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRगाजियाबाद में जमकर गरजे बुलडोजर, गैंगेस्टर की 26 दुकानें जमींदोज, क्या थी वजह?

गाजियाबाद में जमकर गरजे बुलडोजर, गैंगेस्टर की 26 दुकानें जमींदोज, क्या थी वजह?

गाजियाबाद विकास प्राधिकरण ने पुलिस की मदद से शनिवार को लोनी के ट्रोनिका सिटी थाना क्षेत्र की पूजा कॉलोनी में अवैध रूप से बनी 26 दुकानों को ध्वस्त कर दिया। क्या थी वजह जाननें के लिए पढ़ें यह रिपोर्ट...

गाजियाबाद में जमकर गरजे बुलडोजर, गैंगेस्टर की 26 दुकानें जमींदोज, क्या थी वजह?
Krishna Singhभाषा,गाजियाबादSun, 19 Nov 2023 12:14 AM
ऐप पर पढ़ें

गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) ने पुलिस की मदद से शनिवार को लोनी के ट्रोनिका सिटी थाना क्षेत्र की पूजा कॉलोनी में अवैध रूप से बनी 26 दुकानों पर बुलडोजर चलाया। ग्रामीण क्षेत्र के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) विवेक चंद्र यादव ने बताया कि दुकानों का निर्माण कथित भू-माफिया एवं गैंगस्टर मेहबूब अली ने अनुचित तरीकों से अर्जित धन से किया था। दुकानों की बाजार कीमत करीब 14 करोड़ रुपये आंकी गई है। गैंगस्टर ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर निर्दोष लोगों की संपत्ति हड़प ली थी। अब उसकी सभी संपत्तियों को जब्त कर लिया गया है। 

धार्मिक स्थल के पास बने अवैध कमरों पर चला जीडीए का बुल्डोजर
ट्रांस हिंडन, संवाददाता। शिप्रा सनसिटी पार्क की भूमि पर बने एक धार्मिक स्थल के तीन अवैध कमरों को जीडीए के बुल्डोजर ने तोड़ा। इस दौरान जीडीए ने के सहायक अभियंता संजय सिंह ने बताया कि स्थानीय पार्षद ने इसकी शिकायत की थी। इसके बाद पार्षद के साथ विभाग द्वारा मौक़े पर निरीक्षण किया गया। इस दौरान कमरे अवैध पाए गए। इस पर इसमें रहने वालों लोगों से इन्हे खाली करने के लिए शनिवार तक का नोटिस दिया था। जिसके बाद शनिवार को जीडीए की टीम ने मौके पर पहुंचकर अवैध निर्माण को धवस्त कर दिया। कार्रवाई के दौरान एक महिला ने विरोध किया, जिसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

अवैध निर्माण के चार केस दर्ज
ट्रांस हिंडन, वरिष्ठ संवाददाता। इंदिरापुरम में अवैध निर्माण के अलग-अलग मामलों में जीडीए ने चार मुकदमे दर्ज कराए कराए हैं। जीडीए के जेई सचिन अग्रवाल ने बताया कि नीति खंड एक में डॉ. जेपी जैन, शक्ति खंड तीन में दिव्या सांगवान, शक्ति खंड दो में रेखा भदौरिया और गुरुदत के भूखंडों पर निर्माण कार्य चल रहा था। नक्शा स्वीकृत न होने के कारण पूर्व में निर्माण को सील कर नोटिस भी दिया गया, लेकिन सील तोड़कर दोबारा कार्य कराया जाने लगा। इसीलिए चारों लोगों के खिलाफ थाना इंदिरापुरम में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें