ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRपत्नी ने पति को मार खूंटी से टांग दी थी लाश, नाबालिग भाई की मदद से किया मर्डर; पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से खुला राज

पत्नी ने पति को मार खूंटी से टांग दी थी लाश, नाबालिग भाई की मदद से किया मर्डर; पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से खुला राज

गाजियाबाद में मोनू यादव की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में नया मोड़ आ गया। पुलिस के अनुसार मोनू की पत्नी ने अपने नाबालिग भाई के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया था।

पत्नी ने पति को मार खूंटी से टांग दी थी लाश, नाबालिग भाई की मदद से किया मर्डर; पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से खुला राज
Praveen Sharmaमुरादनगर (गाजियाबाद)। हिन्दुस्तानSat, 30 Dec 2023 11:43 AM
ऐप पर पढ़ें

गाजियाबाद जिले में मुरादनगर के सुराना गांव में मोनू यादव की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में नया मोड़ आ गया। पुलिस के अनुसार शराब पीकर पिटाई करने से नाराज होकर पत्नी ने अपने नाबालिग भाई के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया था। हत्या करने के लिए गले में तार बांधकर खूंटी से लटका दिया और आत्महत्या करने की कहानी गढ़ दी। पुलिस ने पत्नी व किशोर को गिरफ्तार कर लिया है।

गांव सुराना निवासी 35 वर्षीय मोनू यादव अपनी पत्नी प्रवेश और आठ व सात साल के दो बच्चों के साथ रहता था। वह खेती करता था। बुधवार सुबह पुलिस को सूचना मिली कि मोनू यादव नामक युवक ने आत्महत्या कर ली है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। पत्नी और अन्य परिजनों ने शव का पोस्टमॉर्टम कराने से इनकार किया। हालांकि, पुलिस ने शव का पोस्टमॉर्टम कराया।

गुरुवार को जब पुलिस के पास पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई तब मामला कुछ और निकला। मोनू यादव की मौत लटकने से नहीं बल्कि गला घोंटने से हुई थी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में गला घोटकर हत्या करने की बात सामने आई। पुलिस ने यह बात परिजनों को बताई तो उन्होंने पत्नी प्रवेश व उसके भाई पर शक जताया।

बिजली के तार से गला दबाकर खूंटी पर लटका दिया : पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने और परिजनों द्वारा शक जताने के बाद पुलिस ने मृतक की पत्नी प्रवेश को हिरासत में लेकर मुरादनगर थाने ले आई। पहले तो महिला ने पुलिस को गुमराह किया, लेकिन थोड़ी सी सख्ती के बाद ही वह टूट गई। पत्नी प्रवेश ने बताया कि मोनू सुबह से रात तक शराब पीता रहता था। उसने घर का सारा सामान भी बेच दिया था। जब शराब पीने को मना किया जाता तो वह बेरहमी से मारपीट करता था। इतना ही नहीं रात के समय उसे घर से भी निकाल देता था। महिला ने बताया कि उसने कई बार सड़क पर रात बिताई है। इलाज कराने के बाद भी मोनू ने शराब नहीं छोड़ी थी। महिला ने बताया कि मोनू अत्यधिक शराब पीने का आदी हो गया था। बुधवार सुबह वह शराब पीकर आया और उसके भाई के सामने ही मारपीट करने लगा। उसे एक कमरे में भी बंद कर दिया, लेकिन वह गंदी-गंदी गालियां देने लगा।

इसके बाद उसने अपने नाबालिग भाई के साथ मिलकर बिजली के तार से उसका गला दबा दिया। फिर तार उसके गले में बांधकर खूंटी से लटका दिया। इसके बाद आत्महत्या करने की कहानी गढ़ दी। पुलिस ने पत्नी को गिरफ्तार कर किशोर को हिरासत में लिया है।

माता-पिता को झूठी जानकारी दी

मोनू यादव परिवार सहित मकान के ऊपरी हिस्से में रहता था, जबकि पिता ईश्वर सिंह और मां संतोष देवी नीचे रहते थे। प्रवेश और उसके नाबालिग भाई ने मोनू की हत्या कर खुदकुशी दर्शाने के लिए शव खूंटी पर टांग दिया था। इस बीच शोर शराबा होने पर माता-पिता ने पूछा तो प्रवेश ने बताया कि मोनू उसकी पिटाई कर रहे थे, इसलिए उन्हें कमरे में बंद कर दिया है। पुलिस ने कमरा खोला तो माता-पिता को मोनू की खुदकुशी की जानकारी लगी।

-नरेश कुमार, एसीपी, मंसूरी सर्किल, ''युवक के आत्महत्या करने की जानकारी मिली थी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हत्या करने की बात सामने आई है। मृतक के पिता ईश्वर सिंह की तहरीर पर हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है। पत्नी प्रवेश व नाबालिग साले को गिरफ्तार कर लिया गया है।'' 

Advertisement