ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRकिसानों का 'दिल्ली मार्च', नोएडा और ग्रेनो में आज से धारा-144, सख्त पाबंदियां, जमावड़े पर रोक

किसानों का 'दिल्ली मार्च', नोएडा और ग्रेनो में आज से धारा-144, सख्त पाबंदियां, जमावड़े पर रोक

Farmers protest in Delhi: किसानों के 'दिल्ली कूच' के ऐलान को देखते हुए गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने CRPC की धारा-144 के तहत 7 और 8 फरवरी को नोएडा और ग्रेटर नोएडा में सख्त पाबंदिया लगा दी हैं। 

किसानों का 'दिल्ली मार्च', नोएडा और ग्रेनो में आज से धारा-144, सख्त पाबंदियां, जमावड़े पर रोक
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 07 Feb 2024 01:03 AM
ऐप पर पढ़ें

किसानों ने एकबार फिर 'दिल्ली कूच' का ऐलान कर दिया है। किसानों के एक संगठन की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक, किसान संगठन अपनी मांगों के लिए 13 फरवरी को दिल्ली के लिए रवाना होंगे। किसान जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन करेंगे। किसानों के 'दिल्ली मार्च' को देखते हुए गौतमबुद्ध नगर पुलिस अलर्ट हो गई है। गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने CRPC की धारा-144 के तहत 7 और 8 फरवरी को नोएडा और ग्रेटर नोएडा में सख्त पाबंदिया लगा दी हैं। 

पुलिस ने क्या कहा?
गौतमबुद्ध नगर पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि 7 फरवरी को किसानों की महापंचायत, दिल्ली कूच किया जाना भी प्रस्तावित है। इस दौरान असामाजिक तत्वों की ओर से शांति व्यवस्था को भंग करने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है । विभिन्न पार्टी कार्यकर्ताओं / भारतीय किसान संगठनों और प्रदर्शनकारियों के धरना प्रदर्शन आदि से शांति भंग की आशंका है। इस वजह से सात और आठ फरवरी को दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के निषेधाज्ञा के आदेश जारी किए जाते हैं।

किसानों ने गांवों में की पंचायत
नोएडा प्राधिकरण दफ्तर के सामने किसानों का धरना मंगलवार को भी जारी रहा। किसानों ने आठ फरवरी को दिल्ली कूच को सफल बनाने के लिए गांव-गांव जाकर पंचायत की। भारतीय किसान परिषद के अध्यक्ष सुखबीर पहलवान ने बताया कि मंगलवार को सफार्बाद, सोरखा, बहलोलपुर, गढ़ी चौखंडी आदि गांवों में जाकर पंचायत की गई। यहां किसानों से अपील की गई कि गुरुवार को दिल्ली स्थित संसद का घेराव करने के लिए अधिक से अधिक संख्या में पहुंचे। दिल्ली कूच को सफल बनाने के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

किसान नेताओं की चेतावनी
समाचार एजेंसी पीटीआई भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, किसान संगठन अपनी मांगों के समर्थन में 13 फरवरी को दिल्ली के लिए रवाना होंगे और जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेंगे। भारतीय किसान नौजवान यूनियन ने कहा कि यदि 13 फरवरी तक किसानों की मांगे नहीं मानी गई तो वे दिल्ली कूच करेंगे। किसान आंदोलन के दौरान सरकार ने जो वादे किए थे उन्हें अब तक पूरा नहीं किया गया है। किसान नेताओं ने चेतावनी दी है कि सरकार लाठीचार्ज से किसानों की आवाज दबाने की कोशिश ना करे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें