ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRनाबालिग बहनों को प्यार के जाल में फंसाया, रेप का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल; दो दोस्तों ने 30 लाख हड़पे

नाबालिग बहनों को प्यार के जाल में फंसाया, रेप का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल; दो दोस्तों ने 30 लाख हड़पे

ग्रेटर नोएडा में दो दोस्तों ने सगी नाबालिग बहनों को प्यार के जाल में फंसाया। रेप का अश्लील वीडियो बनाकर बलात्कार करते रहे और ब्लैकमेल करके छह महीने में 30 लाख रुपए ऐंठ लिए।

नाबालिग बहनों को प्यार के जाल में फंसाया, रेप का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल; दो दोस्तों ने 30 लाख हड़पे
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,ग्रेटर नोएडाTue, 11 Jun 2024 06:46 AM
ऐप पर पढ़ें

ग्रेटर नोएडा के बीटा दो कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में दो दोस्तों ने दो नाबालिग सगी बहनों को प्रेम जाल में फंसाकर दुष्कर्म किया। इसके बाद उनका अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल किया। इस दौरान दोनों दोस्तों ने लड़कियों से करीब तीस लाख रुपये हड़प लिए। बताया जा रहा है कि पैसा मौज मस्ती में उड़ाया । पीड़ित परिवार की शिकायत पर पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के मुताबिक एक गांव के रहने वाले किसान ने पुलिस को बताया की दो आरोपी दोस्त राहुल और सूरज ने उनकी दो नाबालिग बेटियों के साथ दुष्कर्म किया। 

दोनों आरोपी दोस्तों ने नाबालिग बहनों को प्रेम जाल में फंसाया था। उनका अश्लील वीडियो बना लिया। इसके बाद आरोपियों ने दोनों बहनों को ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उनके साथ दुष्कर्म किया जाता और पैसे वसूलने शुरू किए गए। आरोप है कि आरोपी दोस्तों ने दोनों बहनों से करीब तीस लाख रुपए ऐंठ लिए। पुलिस ने किसान की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर दोनों आरोपी दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इनके खिलाफ दुष्कर्म और पोक्सो एक्ट में कार्रवाई की है।

6 महीने में हड़पी 30 लाख रुपए की रकम 

पुलिस की छानबीन में पता चला है कि जनवरी के महीने में आरोपी दोस्तों ने दोनों नाबालिग बहनों से पैसा वसूलना शुरू किया था। दोनों आरोपी अब तक लड़कियों से करीब तीस लाख रुपए ले चुके थे। पुलिस पूछताछ में पता चला है कि आरोपियों ने यह रकम मौज मस्ती में उड़ा दी। एक बाइक और एक स्कूटी भी खरीदी गई है। इसके अलावा मॉल, पब और बार में पैसा खर्च किया गया। पीड़ित बहनों के पिता ने पुलिस को बताया कि उन्होंने अपना एक प्लॉट बेचा था। यह रकम उन्होंने अपने घर की सन्दूक में रखी थी। किसान ने संदूक खोलकर देखी तो उसमें रखे पैसे गायब थे। इस बारे में परिवार के सदस्यों से पूछताछ की गई।